अमित शाह ने अगरतला में जनसभा को किया संबोधित

 अमित शाह ने अगरतला में जनसभा को किया संबोधित

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने अपनी एक दिन की त्रिपुरा यात्रा के दौरान आज अगरतला में एक जनसभा को संबोधित किया। इस अवसर पर त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब और केन्द्रीय मंत्री सुप्रतिमा भौमिक समेत अनेक गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे। अमित शाह ने उदयपुर में मतबारी मंदिर में माँ त्रिपुरा सुंदरी के दर्शन कर पूजा अर्चना भी की।
जनसभा को संबोधित करते हुए केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि यह वर्ष भारत की आज़ादी के अमृत महोत्सव का वर्ष है। हमारे देश की आज़ादी के 75 साल होने के साथ ही त्रिपुरा की स्थापना के भी 50 वर्ष पूरे हो गए हैं। शाह ने कहा की जब मैं 2015 में त्रिपुरा आया था तब हम जिससे भी मिलते थे वह त्राहीमाम-त्राहीमाम करता था। उस समय त्रिपुरा में विकास का नामोनिशान नहीं था, राजनीति में हिंसा थी, प्रशासन पर एक पार्टी के कैडर का नियंत्रण था, राज्य के अर्थतंत्र पर ड्रग्स और हथियार तस्करी की परछाई पड़ी हुई थी और आदिवासी समुदाय स्वयं को सरकार से कटा हुआ महसूस करता था। साथ ही युवा पलायन कर रहे थे और पत्रकार, महिलाएं व  राजनीतिक कार्यकर्ता सुरक्षित नहीं थे। 25 साल तक इन लोगों ने गऱीबों के नाम पर राज किया लेकिन गऱीबों के लिए कुछ नहीं किया। उस समय हमने यह फ़ैसला किया था कि हम त्रिपुरा में एक राजनीतिक आंदोलन खड़ा करेंगे और ‘चलो पलटाई’ के नारे के साथ जाएँगे।
अमित शाह ने कहा कि हमारी पार्टी की सरकार बनने के 4 साल बाद आज मैं देख रहा हूँ कि जो त्रिपुरा पहले ड्रग्स और नशे के कारोबार से त्रस्त था आज वह आत्मनिर्भर बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। आज त्रिपुरा व्यापार और कारोबार का नया हब बन रहा है, राज्य में रोड और रेलवे से जुड़ी कई योजनाओं चल रही हैं और हमारी डबल इंजन की सरकार ने आज़ादी के 70 साल बाद त्रिपुरा के हर घर में बिजली पहुँचाने काम किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने योजना भेजी और मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब जी ने उसे आपके घर तक पहुँचाया।
केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि हमारे युवा मुख्यमंत्री ने त्रिपुरा की आने वाली पीढिय़ों को नशे से मुक्त करने के लिए एक नशा मुक्त अभियान चलाकर त्रिपुरा से नशे को बाहर निकालने का बहुत बड़ा सफल काम किया है और इसके लिए मैं उन्हे बहुत-बहुत बधाई देना चाहता हूँ। भारत सरकार ने भी इसमे त्रिपुरा सरकार की बहुत मदद की है और इससे सबसे बड़ा फायदा अगर किसी को हुआ है तो वह हमारे जनजातीय भाइयों को हुआ है।
अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के शासन में पूरे नॉर्थईस्ट के अंदर विकास की बयार चल रही है। पहले यहां उग्रवाद, घुसपैठ, ब्लॉकेड, भ्रष्टाचार, ड्रग और जातीय तनाव की चर्चा होती थी। आज मोदी जी ने पूरे नॉर्थईस्ट को अष्टलक्ष्मी का स्वरूप देकर विकास, कनेक्टिविटी, इंफ्रास्ट्रक्चर, स्पोर्ट्स, इन्वेस्टमेंट्स और जैविक खेती का बड़ा हब बनाने का काम किया है। शाह ने कहा की त्रिपुरा में शांति के लिए ढेर सारे प्रयास किए गए हैं। एनएलएफटी- त्रिपुरा समझौता हुआ, एनएलएफटी के सभी उग्रवादी हथियार डालकर आज मुख्यधारा में आये हैं। ब्रू समझौते से हमारे 37,000 ब्रू-रियांग लोग जो सालों से घर के बगैर रह रहे थे उन्हे आज प्लॉट और घर दिया गया है तथा खाने का चावल भी देते हैं। हम 5 साल में इनकी शिक्षा दीक्षा की व्यवस्था कर उन्हे रोजगार देने का काम भी करेंगे।
केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि कोरोना के समय मोदी जी ने त्रिपुरा राज्य का ख़ास ध्यान रखा और मुख्यमंत्री बिप्लब देब जी ने घर-घर कोरोना का टीका पहुँचाने की व्यवस्था की। इसी वजह से त्रिपुरा के सभी लोग कोरोना की तीसरी लहर से सलामत रहे। हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी ने दो साल तक त्रिपुरा के हर गरीब के घर, हर महीने प्रतिव्यक्ति पाँच किलो अनाज मुफ़्त भेजने की व्यवस्था की ताकि गरीब के घर चूल्हा जलता रहे। शाह ने कहा कि आज महिला दिवस है और आज मैं त्रिपुरा में मुख्यमंत्री  महिला सशक्तिकरण अभियान की शुरुआत करूँगा। उन्होने कहा कि त्रिपुरा प्रशासन में महिलाओं को 33त्न प्रतिशत आरक्षण मिलने वाला है। गृह मंत्री ने कहा त्रिपुरा के युवाओं के लिए आज मैं नेशनल फ़ोरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी कैंपस की आधारशिला भी रखूँगा। उन्होंने कहा कि 200 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाले यह परिसर त्रिपुरा के युवाओं को देशभर में नौकरी हासिल करने के लिए शिक्षित करेगा। साथ ही चाय बाग़ानों के लिए मुख्यमंत्री श्रमिक कल्याण प्रकल्प की भी आज शुरुआत होने वाली है।
अमित शाह ने कहा कि आज त्रिपुरा भारत के साथ जुड़ा है तो इसका कारण महाराजा वीर किशोर विक्रम माणिक्य हैं। उन्होने इसके लिए एक बहुत बड़ा अभियान चलाया। पिछली सरकार ने राजा साहब को भुलाने का षड्यंत्र किया था लेकिन हमने राज्य के आधुनिक एयरपोर्ट का नाम महाराजा वीर बिक्रम किशोर माणिक्य रखकर त्रिपुरा में एकता का एक नया संदेश देने का काम किया है। महाराजा ने सैकड़ों एकड़ जमीन शिक्षा के लिए दी और जगदीश चंद्र बसु जैसे बड़े वैज्ञानिक भी यहाँ रहे।
गृह मंत्री ने कहा कि आपने जो डबल इंजन की सरकार बनाई है उसके परिणामस्वरूप हमारी बिप्लब देब सरकार ने चार साल में ही में त्रिपुरा की प्रति व्यक्ति आय में 30त्न की बढ़ोतरी कर उसे 1,30,000 रूपये तक ले जाने का काम है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने किसानों की आय दोगुना करने का नारा दिया था और त्रिपुरा में किसानों की आय दोगुना करने का काम पूरा कर दिया गया है। हमारी सरकार ने किसानों की आय को 6,500 से बढ़ाकर 11,000 रूपये तक ले जाने का काम किया है।
अमित शाह ने कहा कि हमारी सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के तहत यहां के 2,50,000 किसानों में से प्रत्येक को हर साल 6,000 रुपये भेजकर 400 करोड़ रुपये बिना किसी कट और कैडर के सीधे किसानों के खाते में भेजने का काम किया है। साथ ही बिप्लव देब सरकार ने 42,000 किसानों का 72,000 मैट्रिक टन धान 130 करोड़ रुपये में एमएसपी पर खरीदा है और मुख्यमंत्री सुनिश्चित सिंचाई कार्यक्रम के तहत 65,000 हेक्टेयर भूमि को सिंचित  किया है। हमने गरीबों के लिए हर घर में बिजली, शौचालय और हर गरीब को 5 लाख रूपये तक का प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना का कार्ड देने का काम भी किया है। प्रधानमंत्री आवास योजना में सिर्फ त्रिपुरा के लिए क्राइटेरिया बदला गया और 2.5 लाख लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का फायदा पहुंचाने का काम हमारी सरकार ने किया है। 36,000 घरों में बिजली पहुंचाई गई है और तीन लाख परिवारों को घर में नल से जल पहुंचाने का काम भी किया है। शाह ने कहा कि 7,000 करोड रूपये की लागत से 542 किलोमीटर लंबाई के 6 राष्ट्रीय राजमार्ग पूरे कर दिए हैं और अगरतला से 6 ट्रेनें चला कर इसे पूरे देश के साथ जोडऩे का काम मोदी सरकार ने किया है।
राज्य में कानून व्यवस्था का जिक्र करते हुए केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने त्रिपुरा में राजनीतिक हत्या पर पूर्णविराम लगाने के साथ ही हत्या, बलात्कार, डकैती और अपहरण जैसे गंभीर अपराधों में 30त्न की कमी लाने का काम भी किया है। साथ ही अपराधी को सजा दिलाने की दर, जो पहले 5त्न थी उसे 10 गुना बढ़ा कर 53त्न करने का काम बिप्लब सरकार ने किया है।
अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश को सुरक्षित करने का काम किया है। पहले की केंद्र सरकार के समय आए दिन आतंकवादी हमले होते थे। मोदी जी ने एक बार सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक कर आतंकवादियों को मुंह तोड़ जवाब दे पूरी दुनिया में साफ संदेश दिया कि कोई भी भारत की सेना और सीमा के सामने आंख उठाकर नहीं देख सकता। उन्होंने कहा कि 70 साल तक पहले की सत्तारूढ़ पार्टी और विपक्ष धारा 370 को बच्चे की तरह अपनी गोदी में संभाल कर बैठे थे लेकिन मोदी जी ने दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद 5 अगस्त 2019 को धारा 370 को समाप्त कर कश्मीर को हमेशा के लिए भारत में जोडऩे का काम किया। उन्होंने कहा कि मोदी जी के नेतृत्व में पूरे देश में विकास की यात्रा शुरू हुई है और त्रिपुरा भी इसमें सहभागी है।
केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि जहां राजनीतिक हिंसा, आतंकवाद, नशा और गुनाह होता है वहां विकास नहीं होता है। अगर आतंकवाद, नशा, गुनाह और राजनीतिक हिंसा समाप्त करनी है तो यह काम केवल और केवल मोदी जी के नेतृत्व में बिप्लव देब और जिष्णु देब बर्मन की जोड़ी ही कर सकती है और कोई नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि हमे त्रिपुरा की संस्कृति, धरोहर और सौंदर्य को बरकरार रखते हुए मां त्रिपुरा सुंदरी के आशीर्वाद से त्रिपुरा को देश में नंबर वन राज्य बनाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share