बौखलाया चीन अब यूरोप पर भी भडक़ा, कई देशों के राजदूतों को किया तलब

 बौखलाया चीन अब यूरोप पर भी भडक़ा, कई देशों के राजदूतों को किया तलब

नैन्सी पेलोसी के ताइवान जाने पर चीन का गुस्सा अभी थमा नहीं है। अमेरिका पर भडक़े चीन ने अब यूरोपियन यूनियन के देशों पर भी भड़ास निकाली है। चीन ने यूरोपियन यूनियन में शामिल 7 देशों के राजदूतों को तलब कर विरोध जताया है। इन देशों की ओर से बयान जारी कर कहा गया था कि ताइवान की सीमा पर चीन का सैन्य अभ्यास गलत है और इसे तत्काल रोका जाना चाहिए। विदेश मंत्रालय की ओर से बताया गया कि उप मंत्री डेंग ली ने विरोध जताया है और यूरोपीय देशों से कहा कि उनकी ओर से बयान जारी करना हमारे अंदरूनी मामलों में दखल जैसा है। इसे कतई स्वीकार नहीं किया जा सकता।
अमेरिकी संसद की स्पीकर नैन्सी पेलोसी की ताइवान यात्रा के विरोध में चीन ने युद्धा अभ्यास शुरू किया है। उसकी ओर से ताइवान की खाड़ी में मिसाइलें दागी गई हैं। बड़े पैमानों पर जहाजों को तैनात किया गया है और वॉर प्लेन भी आसमान में उड़ान भर रहे हैं। ताइवान को चीन अपन हिस्सा मानता रहा है और उसका कहना है कि जरूरत पड़ी तो सैन्य अभियान के जरिए भी वह उसे अपने में मिला सकता है। ताइवान के आसमान के ऊपर से भी कुछ चीनी फाइटर जेट गुजरे हैं। इसके अलावा जहाजों पर सवार चीनी सैनिकों को ताइवान वापस लो के नारे लगाते हुए देखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share