योग और मेडिटेशन को दिल्ली के घर-घर तक पहुंचाने का उद्देश्य : अरविंद केजरीवाल      

 योग और मेडिटेशन को दिल्ली के घर-घर तक पहुंचाने का उद्देश्य : अरविंद केजरीवाल      

नई दिल्ली। दिल्ली की केजरीवाल सरकार दिल्ली वालों को स्वस्थ्य रहने के लिए फ्री में कराएगी योग, दिल्ली सचिवालय में ‘‘दिल्ली की योगशाला’’ कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने योग और मेडिटेशन को जन आंदोलन बनाकर दिल्ली के घर-घर तक पहुंचाने के उद्देश्य से इस कार्यक्रम की शुरूआत की है। जनवरी से दिल्ली में जगह-जगह योग की क्लासेज शुरू होंगी। मैं समझता हूं कि पूरे देश में यह अपने किस्म का पहला कार्यक्रम है, जिसके तहत दिल्ली सरकार लोगों को फ्री में योग कराएगी। भागदौड़ की जिंदगी में आज आदमी का शरीर, मन और आत्मा स्वस्थ्य नहीं है, ऐसे में योग उनकी बड़ी मदद कर सकता है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 25 लोगों का एक ग्रुप 9013585858 पर मिस्ड कॉल करता है, तो दिल्ली सरकार योग कराने के लिए नि:शुल्क शिक्षक देगी। इसके लिए 400 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया है। मुझे उम्मीद है कि दिल्ली को देखकर पूरे देश के अंदर भी योग शालाएं जरूर शुरू होंगी और लोगों के घर-घर तक योग पहुंचेगा। दिल्ली वालों अपील है कि आपको बस एक मिस्ड कॉल कर यह सुनिश्चित करना है कि आप रोज सुबह योग की क्लास में जरूर आएंगे। अरविंद केजरीवाल ने आज दिल्ली सचिवालय में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान ‘दिल्ली की योगशाला’ प्रोग्राम की शुरूआत की। ‘‘दिल्ली की योगशाला’’ प्रोग्राम की शुरूआत से पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समेत सभी गणमान्य लोगों ने हेलिकॉप्टर हादसे में शहीद हुए देश के पहले सीडीएस विपिन रावत को दो मिनट की भावभीनी श्रद्धांजलि दी। इसके उपरांत मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दीप प्रज्वलित करके कार्यक्रम की शुरूआत की। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ विधायक आतिशी, टीटीई सचिव आर. एलिस वाज, डीपीएसआरयू के वाइस चांसलर प्रोफेसर रमेश के. गोयल समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share