गुजरात के विकास में व्यापारियों को बनाएंगे पार्टनर : अरविंद केजरीवाल

 गुजरात के विकास में व्यापारियों को बनाएंगे पार्टनर : अरविंद केजरीवाल

गुजरात के जामनगर दौरे पर आए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने व्यापारियों के साथ बैठक कर कहा कि 5 गारंटी गुजरात के व्यापारियों को देता हूं की विकास में व्यापारियों को पार्टनर बनाएगी आम आदमी पार्टी जब गुजरात में हमारी सरकार बन जाएगी। व्यापारियों में डर का माहौल खत्म कर उनको इज्जत देंगे। रेड राज बंद करेंगे, एमनेस्टी स्कीम लाकर वैट के पुराने मुकदमें खत्म करेंगे और वैट के लंबित रिफंड 6 महीने में दे दिए जाएंगे। जैसे फैविकोल का जोड़ टूटेगा नहीं, वैसे ही केजरीवाल की गारंटी भी कभी टूटेगी नहीं। अगर हम अपनी गारंटी पूरी न करें, तो अगली बार हमें वोट मत देना। ‘‘आप’’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने दिल्ली में सबका इलाज और सबकी शिक्षा मुफ्त कर दी, तो क्या गलत कर दिया? वो कहते हैं कि केजरीवाल ‘फ्री की रेवड़ी’ बांट रहा है। सीएजी की रिपोर्ट में लिखा है कि पूरे देश में अकेला दिल्ली राज्य है, जिसका बजट मुनाफे में है। गुजरात सरकार के उपर करीब 3.5 लाख करोड़ रुपए का कर्जा है, जबकि दिल्ली सरकार के उपर कोई कर्जा नहीं है। इन लोगों ने अपने दोस्तों के 11 लाख करोड़ रुपए माफ कर दिए। यह ठीक है या बच्चों को फ्री शिक्षा देना ठीक है। अरविंद केजरीवाल ने आज गुजरात के जामनगर में टाउनहॉल मीटिंग कर व्यापारियों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश को आजाद हुए 75 साल हो गए। हमारा देश इस समय 75वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। पूरा देश देशभक्ति में डूबा हुआ है। इन 75 सालों में हमने बहुत कुछ पाया। लेकिन यह वक्त सोचने का भी है। इन 75 साल में बहुत सारे ऐसे देश भी हैं, जो हमसे आगे निकल गए। सिंगापुर 1960 के अंदर आजाद हुआ था। आज वो हमसे आगे निकल गया। जापान और जर्मनी में दूसरे विश्व युद्ध में पूरी तरह से बर्बाद हो गए थे। वो भी हमसे आगे निकल गए। ऐसे बहुत सारे देश हैं, जो इन 75 साल में हमसे आगे निकल गए। हम पीछे क्यों रह गए। हमारे में क्या कमी है। भगवान ने हमको सबकुछ दिया है। जब पृथ्वी की रचना की, तो भगवान ने सबसे खूबसूरत और अच्छी जगह भारत को बनाया। हमें पहाड़, नदियां, जड़ी-बूटी, फसलें, खनिज पदार्थ और समुंद्र सबकुछ दिया। जब भगवान ने पृथ्वी आदमी को बनाया, तो उसने सबसे बुद्धिमान भारत के लोगों को बनाया। हमारे भारत के लिए पूरी दुनिया में घूमते हैं। आप सभी मल्टीनेशनल कंपनियों को देख लो, उसमें टॉप पर भारतीय बैठा मिलेगा। फिर हमार देश पीछे क्यों रह गया। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि गुजरात के लोग उद्यमी हैं और मेहनती हैं। व्यापार और इंडस्ट्री चलाना जानते हैं। गुजरात के लोग जब पूरी दुनिया में जाते हैं, तो देश का नाम रौशन करते हैं। लेकिन जब अपने देश गुजरात में आते हैं, तो उनको केजरीवाल की मीटिंग में जाने से रोका जाता है। इसलिए हमार देश पीछे रह गया। हम आपस में लड़ते रह गए। हम गंदी राजनीति का हिस्सा बन कर रह गए हैं। अगर इन्हीं लोगों के भरोसे देश छोड़ दिया, तो अगले 75 साल और पीछे रह जाएंगे। देश के 130 करोड़ लोगों को खड़ा होने की जरूरत है। इस देश को लोग आगे लेकर जाएंगे, नेता और पार्टियां आगे लेकर नहीं जाएंगी। हमारे पास सबसे अच्छे इंजीनियर, डॉक्टर, बिजनेसमैंन, किसान, पेशेवर और वकील हैं, फिर भी हम पीछे क्यों हैं? इसलिए कि हमारे देश की राजनीति बहुत खराब है। इस राजनीति को ठीक करना पड़ेगा। मैं भी एक आम आदमी हूं। मैंने कभी जिंदगी में नहीं सोचा था कि मैं राजनीति में आउंगा। किस्मत ने ऐसा पलटा खाया कि लोगों का प्यार मिला और दिल्ली का मुख्यमंत्री बन गया। पहले मैं सोचता था कि सरकार चलाना कुछ ज्यादा ही मुश्किल होता होगा। पहले मैं दिल्ली की झुग्गियों में काम करता था। उसके पहले इनकम टैक्स विभाग में कमिश्नर था। नौकरी छोड़ कर दिल्ली की झुग्गियों में काम करने लगा। वहां मैं देखता था कि गरीब लोग अपने बच्चों को सरकारी स्कूल में भेजते हैं। सरकारी स्कूलों को इतना बुरा हाल था। सरकारी अस्पतालों को बहुत बुरा हाल था। मुझे लगता था कि देश आजाद हुए 70 साल हो गए। ये सरकारें कोशिश तो कर रही होंगी, लेकिन इनसे हो नहीं पा रहा होगा। जब दिल्ली में हमारी सरकार बनी, तो हमनें पांच साल में सरकारी स्कूल ठीक कर दिए। हमने दिल्ली के सरकारी अस्पताल पांच साल में शानदार कर दिए। आजकल दिल्ली में लोग फोर्टिस और मैक्स की जगह सरकारी अस्पताल में इलाज कराने जाते हैं। तब मेरे को लगने लगा कि यह तो देश के साथ धोखा हो गया। हो तो सकता था। स्कूल, अस्पताल, व्यापार, इंडस्ट्री ठीक हो सकती थी, सडक़ें भी बन सकती थी, बिजली और पानी भी ठीक हो सकता था। पिछले 70 साल में हो तो सकता था, लेकिन इन लोगों ने देश के लोगों को धोखा दिया है और जानबूझ कर पिछड़ा रखा है। देश आगे बढ़ सकता है। ये गंदी राजनीति खत्म करनी पड़ेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share