भगवंत मान सरकार का विश्वास मत ध्वनिमत से पारित, 93 विधायकों का मिला साथ

 भगवंत मान सरकार का विश्वास मत ध्वनिमत से पारित, 93 विधायकों का मिला साथ

पंजाब विधानसभा में भगवंत मान सरकार के विश्वास प्रस्ताव पर बहस हुई। इसके बाद मुख्यमंत्री ने इस चर्चा का जवाब दिया। विश्वास प्रस्ताव को ध्वनिमत से पास कर दिया गया। प्रस्ताव के समर्थन में 93 विधायक रहे। बहस का जवाब देते हुए सीएम भगवंत मान ने कहा कि भाजपा व कांग्रेस एक हैं। भाजपा आपरेशन लोटस चलाकर चुने हुए प्रतिनिधियों को खरीदकर सरकारें बना रही है। भाजपा ने कांग्रेस के विधायक खरीदे, लेकिन कांग्रेस चुप है। कांग्रेस ने चर्चा में हिस्सा तक नहीं लिया।
बसपा और शिअद के विधायक सदन में मौजूद रहे लेकिन उनकी तरफ से ना नहीं की गई। किसी एक विधायक ने भी न नहीं कहा और सदन ने प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पास किया। इससे पहले सीएम भगवंत मान ने कहा कि आगामी दिनों में कई योजनाएं आ रही हैं। फिलहाल गन्ना उत्पादक पैसे नहीं मिलने पर धान की तरफ जा रहे हैं। लेकिन सरकार की ओर से पूरी रकम लौटाई जा चुकी है। चंद रकम रहती है।गन्ने का भाव 360 रुपए से 380 रुपये कर रहे हैं। खजाने से 200 करोड़ रुपये का खर्च होगा, जो लोगों को दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share