मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वृंदावन में अन्नपूर्णा रसोई का किया शुभारम्भ

 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वृंदावन में अन्नपूर्णा रसोई का किया शुभारम्भ

मुख्यमंत्री ने कहा कि कितना अद्भुत संयोग है कि आज भगवान श्रीकृष्ण का पावन जन्मोत्सव है। आज ही के 1942 में 50 हजार की भीड़ ने जेल का फाटक तोड़ क्रांतिकारियों को छुडाकर बलिया को आजाद कराया था। भारत 1947 में स्वतंत्र हुआ था। बलिया को 1942 में स्वतंत्र करा लिया था। मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर वृंदावन के टीएफसी पर आयोजित हुए जन्मोत्सव कार्यक्रम के अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण जगत पिता हैं। यहां पर आकर अपनी लीलाओं से धर्म सत्य और न्याय की स्थापना के लिए पांच हजार वर्ष पूर्व उनका अवतरण हुआ था। आज से पांच हजार वर्ष पूर्व जब जंगल थे आवागमन के साधन नहीं थे उस कालखंड में भी भगवान श्रीकृष्ण का पूरे भू भाग पर किस तरह एकाधिकार था यह किसी से छुपा हुआ नहीं है। यही तो अपनी आध्यात्मिक और सांस्कृतिक धरोहर को अक्षुण्य बनाए रखने और संरक्षण का अभियान जिसे दुनिया 14 सौ, 27 सौ, तीन हजार वर्षों तक सीमित करती है। हम यह कह सकते हैं कि द्वापर में हमारे भगवान श्रीकृष्ण आए थे और पांच हजार वर्ष पूर्व अपनी लीलाओं को इसी क्षेत्र में किया था। जब भी मैं यहां आता हूं मैं देखता हूं लोग नंगे पैर चल रहे हैं, मुठ्ठी बंध कर चल रहे हैं। कोई अपेक्षा उसकी किसी से नहीं होती है। केवल एक इच्छा होती है हम भी भगवान के लिए अपना कुछ अर्पित कर उनके दर्शन कर लें। एक ही भाव होता है। इसी भाव को आगे बढाते हुए ब्रज तीर्थ विकास परिषद और मंगलम परिवार के संयुक्त तत्वावधान में अन्नपूर्णा रसोई का प्रारंभ वंदनीय होता है, अभिनंदन करने के लिए मैं स्वं यहां यहां आया हूं। काशी विश्वनाथ धाम में एक करोड श्रद्धालु एक महीने में एक करोड श्रद्धालु गए थे। मथुरा वृंदावन, बरसाना, गोकुल, बलदेव गोवर्धन, राधाकुंड सहित समस्त स्थलों के आध्यात्मिक सांस्कृतिक विकास संतो ंके सानिध्य में हो रहा है।
पांच हजार लोग रोज कर सकेंगे भोजन
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अन्नपूर्णा रसोई का शुभारम्भ किया। उन्होंने कहा कि वह मंगलम परिवार, विजय कौशल महाराज व उत्तर प्रदेश विकास तीर्थ विकास परिषद के आभारी है कि उनके द्वारा ब्रज में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए अन्नपूर्णा भवन का शुभारंभ किया गया है। वहीं उन्होंने कहा कि इस अन्नपूर्णा भवन के जरिए ब्रज में आने वाले श्रद्धालुओं को काफी राहत मिलेगी। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के साथ अन्नपूर्णा भोजनालय का शुभारंभ के लिए मुख्यमंत्री ने विजय कौशल महाराज न्यास का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति की श्रद्धा ही है जो इस तीर्थ को तीर्थ तत्व प्रदान करती है। ऐसे लोगों के लिए ही अन्नपूर्णा भोजनालय शुरू हुआ है। इसके अलावा पांच इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान आचार्य बालकृष्ण भी मुख्यमंत्री के साथ मौजूद रहे।
श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर किए दर्शन
वृंदावन कार्यक्रम स्थल से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ श्रीकृष्ण जन्मस्थान मथुरा के लिए रवाना हुए। जन्मस्थान पर सीएम योगी करीब 30 मिनट तक रुक। यहां भगवान कृष्ण के दर्शन करने के बाद पूजा अर्चना की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हेलीकॉप्टर वृंदावन के पवन हंस हेलीपैड पर एक बजकर 17 मिनट पर उतरा। यहां संस्कृति मंत्री जयवीर सिंह, गन्ना विकास मंत्री चौधरी लक्ष्मीनारायण, विधायक पूरन प्रकाश, विधायक राजेश चैधरी, महापौर डा.मुकेश आर्य बंधु समेत स्थानीय विधायकों ने स्वागत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share