चीन ने लिथुआनियाई मंत्री की ताइवान यात्रा पर लगाया प्रतिबंध

 चीन ने लिथुआनियाई मंत्री की ताइवान यात्रा पर लगाया प्रतिबंध

चीन ने ताइवान के स्वशासी लोकतांत्रिक द्वीप की यात्रा पर लिथुआनिया के उप परिवहन मंत्री एग्ने वैसीयूकेविशिएट की यात्रा पर प्रतिबंध लगाया। लिथुआनिया ने हाल ही में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी की ताइवान यात्रा का भी समर्थन किया था। लिथुआनिया के इस कदम को चीन ने गलत बताते हुए आरोप लगाया कि बाल्टिक नाटो देश वन चाइना पॉलिसी का उल्लंघन कर रहे हैं।
चीनी विदेश मंत्रालय के हवाले से कहा कि वैसीयूकेविशिएट ने बीजिंग के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप किया और देश की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को ठेस पहुंचाया।
उन्होंने बताया कि लिथुआनियाई परिवहन और संचार मंत्रालय के साथ सभी प्रकार के आदान-प्रदान को निलंबित कर दिया गया है।
मौजूदा तनावों के बावजूद, वैसीयूकेविशिएट 7 अगस्त को यात्रा कर ताइपे पहुंचे थे।
नैंसी पेलोसी द्वारा ताइवान की यात्रा के जवाब में चीन पिछले सप्ताह से द्वीप के चारों ओर बड़े पैमाने पर सैन्य अभ्यास कर रहा है।
बीजिंग ने पेलोसी और उसके तत्काल परिवार के सदस्यों पर भी प्रतिबंध लगाए।
चीनी ताइवान को अपने क्षेत्र का हिस्सा मानता है। दूसरी ओर, ताइवान लंबे समय से खुद को स्वतंत्र मानता रहा है।
हाल के महीनों में लिथुआनिया और चीन के बीच तनाव भी पैदा हुआ।
बीजिंग ने बाल्टिक यूरोपीय संघ राज्य के साथ अपने राजनयिक संबंधों को डाउनग्रेड कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share