पाकिस्तान में प्रकृति से खिलवाड़ का विनाशकारी पलटवार : गुटेरेस

 पाकिस्तान में प्रकृति से खिलवाड़ का विनाशकारी पलटवार : गुटेरेस

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा है कि इंसान ने प्रकृति के खिलाफ युद्ध की घोषणा कर दी है और पाकिस्तान में देखा जा सकता है कि प्रकृति किस विनाशकारी तरीके से पलटवार कर रही है। पाकिस्तान में बाढ़ से हालात बदतर हो चुके हैं। एक तिहाई पाकिस्तान इस बाढ़ से जूझ रहा है। इस संकट की घड़ी में श्री गुटेरेस ने नौ और 10 सितंबर को पाकिस्तान का दौरा किया।
श्री गुटेरेस संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित पाकिस्तान को व्यापक स्तर पर मदद की जरूरत है। उन्होंने विश्व समुदाय से इस देश की मदद के लिए बड़े पैमाने पर तत्काल वित्तीय सहायता का आग्रह किया।
महासचिव ने इस जलवायु आपदा के बारे में वैश्विक स्तर पर जाकरूकता बढ़ाने के लिए पाकिस्तान की दो दिन की यात्रा की। इस दौरान उन्होंने बाढ़ प्रभावित इलाक़ों का हवाई सवेक्षण किया। इस प्राकृतिक आपदा में अभी तक 1,300 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। करोड़ों लोग बेघर हैं। देश का लगभग एक तिहाई हिस्सा बाढ़ के पानी में डूबा हुआ है।
श्री गुटेरेस ने पत्रकारों से कहा, मैने दुनिया में बहुत-सी मानवीय आपदाएं देखी हैं, मगर इस स्तर का जलवायु संहार शायद ही कहीं और देखा है।मैंने आज जो कुछ देखा है, उसे बयान करने के लिये मेरे पास शब्द नहीं हैं। बाढ़ से प्रभावित इतना बड़ा इलाक़ा जो मेरे देश पुर्तगाल से तीन गुना बड़ा है।
उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि एक तरफ़ लोगों की तकलीफ़ें देखकर उन्हें सदमा पहुंचा है, वहीं दूसरी तरफ़ लोगों की कमाल की सहनशीलता और हौसले की मिसालें भी देखी है। यह आपदा कर्मियों से लेकर अपने पड़ोसियों की मदद करने वाले आम लोगों तक में नजऱ आए।
उन्होंने शनिवार सुबह, राजधानी इस्लामाबाद से सिन्ध प्रान्त के सक्कर इलाक़े का दौरा किया जिसमें उनके साथ देश के प्रधानमंत्री शाहबाज़ शरीफ़ और विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जऱदारी भी उनके साथ थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share