अन्नाद्रमुक के कार्यालय में तोडफ़ोड़, अहम दस्तावेज और सामना गायब, पनीरसेल्वम के खिलाफ शिकायत

 अन्नाद्रमुक के कार्यालय में तोडफ़ोड़, अहम दस्तावेज और सामना गायब, पनीरसेल्वम के खिलाफ शिकायत

तमिलनाडु में विपक्षी दल अन्नाद्रमुक ने आरोप लगाया कि पार्टी से निष्कासित नेता ओ पनीरसेल्वम के प्रति निष्ठा रखने वालों ने 11 जुलाई को पार्टी कार्यालय में तोडफ़ोड़ की और दस्तावेजों तथा कीमती वस्तुओं को लूट लिया। यह घटना उस वक्त हुई जब पनीरसेल्वम और पार्टी के अंतरिम महासचिव के पलानीस्वामी के समर्थकों के बीच झड़प हुई थी।
ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कषगम (अन्नाद्रमुक) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य सी वी शनमुगम ने इस संबंध में पनीरसेल्वम और उनके कुछ सहयोगियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है, जिसमें आरोप लगाया गया कि पार्टी कार्यालय से वे विभिन्न दस्तावेज ले गए।
शिकायत दर्ज कराने के बाद राज्य के पूर्व मंत्री शनमुगम ने पत्रकारों के साथ बातचीत में दावा किया कि पनीरसेल्वम के प्रति निष्ठा रखने वाले लोगों ने पार्टी कार्यालय में तोडफ़ोड़ की और दस्तावेजों व अन्य सामानों को लूट लिया। उन्होंने आरोप लगाया, सभी कमरों में तोडफ़ोड़ की गई और कई सामान लूट लिए गए।
शनमुगम ने कहा कि कार्यालय की इमारत, अन्नाद्रमुक के संस्थापक दिवंगत एम जी रामचंद्रन की पत्नी जानकी की थी, लेकिन उन्होंने इसे पार्टी को दे दिया। उन्होंने दावा किया कि कोयंबटूर और मदुरै के कार्यालय से भी संबंधित दस्तावेज पनीरसेल्वम से जुड़े एक वाहन में उनके समर्थक ले गए थे। शनमुगम ने दावा किया कि ये सभी गतिविधियां पनीरसेल्वम के इशारे पर हुईं। उन्होंने कहा कि पार्टी ने पनीरसेल्वम के खिलाफ कार्रवाई के साथ लापता सामान की तत्काल बरामदगी की भी मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share