केजरीवाल सरकार ने कोरोना में  शराब माफियाओं को पैसे मांफ कर दिए : भाजपा

 केजरीवाल सरकार ने कोरोना में  शराब माफियाओं को पैसे मांफ कर दिए : भाजपा

भारतीय जनता पार्टी के सांसद  प्रवेश साहिब सिंह ने कहा कि नई शराब नीति में शराब माफियाओं से मिली भगत करके केजरीवाल सरकार ने दिल्ली को बर्बाद करने का ना केवल काम किया है बल्कि 850 से ज़्यादा दुकानें खोलने के लिए हजारों करोड़ का कमीशन भी अवैध रूप से शराब माफियाओं से लिया हैं। आज आम आदमी पार्टी के मुख्यालय के बाहर भ्रष्टाचारी मनीष सिसोदिया की बर्खास्तगी की मांग को लेकर दिल्ली भाजपा द्वारा किए गए प्रचंड विरोध प्रदर्शन में  प्रवेश साहिब सिंह ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अब ज्यादा दिन अपनी नई शराब नीति के घोटालों को छुपा नहीं सकते, क्योंकि सीबीआई जांच की मांग की गयी है और सीबीआई जांच शुरू होते ही दिल्ली सरकार के सारे शराब माफियाओं के मित्र जेल में होंगे। प्रवेश साहिब सिंह ने कहा कि दिल्ली में जब से नई आबकारी नीति लागू हुई है तब से महिलाओं के प्रति घरेलु हिंसा में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। महिला सुरक्षा की बात करने वाले केजरीवाल सरकार ने आज महिलाओं की सुरक्षा को खतरे में डाल दिया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने 144 करोड़ रूपये शराब माफियाओं का मांफ किया क्योंकि भ्रष्ट सिसोदिया के शराब कारोबारी मित्र कोरोना काल में शराब नहीं बेच पाए थे। लेकिन दिल्ली में छोटे-2 उद्योग चला रहे लोगों का एक रुपया भी माफ नहीं किया, लोगों के बिजली बिल मांफ नहीं किया गया। प्रवेश साहिब सिंह ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कोरोना को लेकर एक भी कैबिनेट मीटिंग नहीं की, लेकिन जब कोविड से लोग मर रहे थे तब शराब माफियाओं से हजारों करोड़ का कमीशन लेकर नई शराब नीति लाने पर तुरंत कैबिनेट मीटिंग कर दी और पॉलिसी भी बना दी। बिना उपराज्यपाल को नोटिस दिये और नियमों की अनदेखी कर उन्होंने सिर्फ शराब माफियाओं को फायदा पहुंचाने और अपनी जेब भरने का काम किया।उन्होंने कहा कि आप पार्टी के अब तक जितने भी नेता, पार्षद, विधायक, मंत्री ‘भ्रष्टाचार, बलात्कार, दंगा, रिश्वत, फर्जी डिग्री, हवाला कारोबार’ में गिरफ्तार हुए हैं उनको केजरीवाल खुद जज बनकर ईमानदारी के सर्टिफिटेक बांटते फिरते थे, लेकिन जब वे जेल में पड़े हैं या जाने वाले हैं तो केजरीवाल के ईमानदारी का ढ़ोल फूट चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share