केजरीवाल ने दिल्ली में फहराया 166 फीट ऊंचा 500वां तिरंगा

 केजरीवाल ने दिल्ली में फहराया 166 फीट ऊंचा 500वां तिरंगा

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा हराने की ओर लगी हुई है राजनीतिक पार्टियों में क्योंकि भारतीय जनता पार्टी तिरंगा यात्रा निकाल रही है तो दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली के कोने कोने में 500 विशाल राष्ट्रीय ध्वज लगाने का वादा कर रहे हैं । अरविंद केजरीवाल ने 166 फीट ऊंचा 500वां तिरंगा फहराते हुए कहा कि हमने दिल्ली में इतने तिरंगे लगाने का प्रण लिया था कि अगर कोई दिल्लीवासी अपने घर से बाहर निकले तो उसको कहीं न कहीं एक तिरंगा जरूर दिखाई देना चाहिए। आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर हमें यह प्रण लेना है कि हम भारत को दुनिया का नंबर वन देश बनाकर रहेंगे। हमें देश में ऐसी व्यवस्था बनानी पड़ेगी कि हर बच्चे को अच्छी शिक्षा, हर व्यक्ति को अच्छा इलाज और रोजगार का मौलिक अधिकार होना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारा देश परिवारवाद और दोस्तवाद की वजह से पीछे रह गया। इसे खत्म करना होगा और अब देश के अंदर भारतवाद होगा। देश में एक पार्टी ऐसी है, जिसने सरकारी पैसा केवल एक परिवार के लिए लुटा दिया और दूसरी पार्टी ऐसी है, जिसने सरकारी पैसा अपने दोस्तों के लिए लुटा दिया। अब सरकारी पैसा रोजगार, बच्चों को मुफ्त शिक्षा और सबको चिकित्सा दिलाने पर खर्च किया जाएगा। मुफ्त शिक्षा व इलाज की सुविधा देना फ्री-बी नहीं है, अपने दोस्तों के 10 लाख करोड़ रुपए के कर्जे माफ करना फ्री-बी है। अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर पूरी दिल्ली में जगह-जगह 500 विशाल तिरंगे लगाने का वादा किया था। आज यह वादा पूरा हो गया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज पटपडग़ंज में स्थापित 166 फीट ऊंचा 500वां तिरंगा फहराकर इस वादे को पूरा किया। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आजादी की 75वीं सालगिरह सभी देशवासियों को मुबारक हो। अभी हम जब अपने राष्ट्रीय ध्वज को उपर चढ़ते हुए देख रहे थे, तो उस वक्त कितना शानदार दृश्य था। भगवान करें, हमारा यह तिरंगा हमेशा के लिए ऐसे ही बुलंदियों पर रहे और ऐसे ही लहराता रहे और इस तिरंगे की आन-बान-शान के लिए अगर हमें अपनी जान भी न्यौछावर करनी पड़े, तो छोटी बात होगी। एक साल पहले, हम लोगों ने प्रण लिया था कि दिल्ली के अंदर इतने तिरंगे लगाएंगे कि अगर कोई दिल्ली वासी अपने घर से बाहर निकल कर सब्जी, दूध लेने या दफ्तर के लिए निकलेगा, तो उसको कहीं न कहीं एक तिरंगा जरूर दिखाई देना चाहिए। हमारा मकसद था कि लोग जब अपने घर से निकलें, तो दिन में तीन या चार बार उनको तिरंगे दर्शन हो जाएं। जब हम तिरंगा देखते हैं, तो दिल के अंदर धक-धक होती है। देशभक्ति जागती है। देश के लिए कुछ कर गुजरने की इच्छा जागती है। आदमी कुछ गलत काम कर भी रहा हो, तो एक बार हिचक जाता है कि देश के लिए मेरे को यह नहीं करना चाहिए। इस भावना से हमने यह शुरू किया। मुझे बड़ी खुशी है कि आज पूरी दिल्ली में 500 तिरंगे लग चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share