केजरीवाल ने आबकारी नीति के नाम पर हज़ारों करोड़ रुपये दलाली ली : आदेश गुप्ता

 केजरीवाल ने आबकारी नीति के नाम पर हज़ारों करोड़ रुपये दलाली ली : आदेश गुप्ता

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  आदेश गुप्ता ने कहा कि स्टिंग मास्टर मनीष सिसोदिया की करतूतों का आज जब स्टिंग हो गया है तो वे अब पत्रकारों के सवालों से बचकर भाग रहे हैं, लेकिन उनके भागने से कुछ नहीं होगा। जब तक वह इस भ्रष्टाचार को कबूल नहीं करते तब तक उनसे ऐसे ही सवाल भाजपा और दिल्ली की जनता पूछती रहेगी। श्री गुप्ता ने कहा कि मनीष सिसोदिया द्वारा सवालों से बचने और मुद्दे को टालने के लिए इस पूरे ऑपरेशन में जिस व्यक्ति को सडक़ पर चलने वाला बता रहे हैं वह आरोपी नंबर 13 सन्नी मारवाह के पिता कुलविंदर मारवाह हैं जो एल-1 ठेकेदार हैं। अगर केजरीवाल के पास इंसानीयत बची होती तो वे अब तक मनीष सिसोदिया को बर्खास्त कर चुके होते।   आदेश गुप्ता ने आज नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी के साथ संयुक्त प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि कुलविंदर मारवाह शराब के बड़े कारोबारी हैं और इन्हीं से मोटा कमीशन लेकर सिसोदिया ने शराब के कई ठेकों के लाइसेंस दिए। मनीष सिसोदिया को याद दिलाते हुए श्री गुप्ता ने कहा कि यह कुलविंदर मारवाह वही ठेकेदार हैं जिन्हें एयरपोर्ट जोन का ठेका दिया गया था और जिन्हें 30 करोड़ रुपये रिटर्न किए गए थे। उन्होंने दिल्ली के सभी शराब के ठेकेदारों से अपील की है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ हम सबको साथ मिलकर लड़ाई लडऩी चाहिए और इसके लिए जिन-जिन ठेकेदारों से केजरीवाल ने ठेकों के नाम पर करोड़ों रुपये लिए हैं सामने आकर इसी तरह से खुलासा करें ताकि केजरीवाल का असली चेहरा दिल्ली के सामने आ सके। आदेश गुप्ता ने कहा कि नई आबकारी नीति में शराब माफियाओं की मिली भगत अब पूरी तरह से स्पष्ट हो चुकी है और कमीशन 2 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी करने का मकसद अब साफ तौर पर सामने आ चुका है। नशा, बेईमानी, लूट और भ्रष्टाचार का सबसे बड़ा उदाहरण दिल्ली में देखने को मिला है। उन्होंने कहा कि आज शिक्षक दिवस के दिन केजरीवाल के गुरु अन्ना हज़ारे भी केजरीवाल के भ्रष्टाचार की करतूतों पर जोर-जोर से रो रहे होंगे क्योंकि जो शराब की दुकानें खोलने की खिलाफत करते थे वहीं आज शराब के ठेकों के माध्यम से करोड़ो रुपये का भ्रष्टाचार कर रहे हैं।
नेता प्रतिपक्ष  रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि नई आबकारी नीति में जिस तरह का भ्रष्टाचार हुआ है, वह सबके सामने आ चुका है। शराब के नाम पर हुए हज़ारों करोड़ रुपये के घोटाले में अरविंद केजरीवाल का सीधा-सीधा हाथ है। इसको लेकर कल भाजपा के सभी विधायक विजय चौक से पैदल चलकर राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू से मिलकर एक ज्ञापन सौपेंगे और उनसे अनुरोध करेंगे कि केजरीवाल सरकार को बर्खास्त करें। उन्होंने कहा कि शराब ही नहीं, शिक्षा और परिवहन सहित दिल्ली जलबोर्ड में भी हुए घोटाले पर जांच चल रही है जिसका खुलासा भी जल्द ही हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share