देहरादून में पांच का मर्डर: पुजारी ने मां, पत्नी और तीन बेटियों का गला रेतकर उतारा मौत के घाट, आरोपी गिरफ्तार

 देहरादून में पांच का मर्डर: पुजारी ने मां, पत्नी और तीन बेटियों का गला रेतकर उतारा मौत के घाट, आरोपी गिरफ्तार

देहरादून। देहरादून जिले के नागाघेर रानीपोखरी में एक पुजारी ने अपने परिवार के पांच सदस्यों की  गला रेतकर निर्मम  हत्या की दी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, महेश कुमार पुत्र दिनेश कुमार निवासी इलाहाबाद रोड थाना अतहरा, जिला बांदा, उत्तर प्रदेश  ने अपनी मां, पत्नी तथा तीन पुत्रियों की गला रेत कर हत्या की गई है।देहरादून में सोमवार सुबह एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या से सनसनी फैल गई। हत्यारे ने अपने पूरे परिवार को मौत के घाट उतार दिया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। इसके बाद जो देखा उससे पुलिस भी सन्न रह गई। कमरे से लेकर किचन तक खून ही खून था। पांच लाशों को देख लोग सिहर उठे। आलाधिकारी भी मौके पर पहुंचे हैं। हत्यारोपी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। जिसकी पहचान उत्तर प्रदेश के बांदा जिला निवासी महेश तिवारी के रूप में हुई है।
आरोपी देहरादून के रानीपोखरी में शांति नगर इलाके में रहता था। सोमवार सुबह पुलिस को एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या की सूचना मिली। आनन-फानन पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। साक्ष्य जुटाने के साथ ही पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया। आरोपी से पूछताछ की जा रही है। आरोपी ने हत्या करने की बात कबूल की है। हालांकि अभी तक यह बात सामने नहीं आई है कि उसने ऐसा खौफनाक कदम क्यों उठाया। उधर, एसपी देहात कमलेश उपाध्याय ने मामले की जानकारी देते हुए बताया है की आरोपी मूल रूप से बांदा उत्तर प्रदेश का निवासी है। हत्या की वजह क्या रही होगी ये आरोपी से जानकारी बयान के आधार पर ली जाएगी। मृतकों में तीन बेटियां, माता और आरोपी की पत्नी शामिल है।
सभी का कत्ल चाकू से किया
हत्यारे ने वारदात को चाकू से अंजाम दिया है। उसने माता-पत्नी और बेटियों पर चाकू से अनगिनत वार किए। पूरे घर में फैला खून आरोपी की बर्बरता को बयां कर रहा था। लेकिन एक बात किसी के गले से नहीं उतर रही है कि आरोपी ने अकेले इतनी बर्बरता के साथ पांच लोगों को कैसे मौत के घाट उतारा। इसको लेकर कई सवाल भी उठ रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि पुलिस के हाथ अहम साक्ष्य लगे हैं। कई बिंदुओं पर पुलिस जांच व पूछताछ कर रही है।
नागा घेर में रह रहा था आरोपी
आरोपी महेश तिवारी कई वर्षों से नागा घेर में रह रहा था। यहां के प्रधान सुधीर रतूड़ी ने बताया कि आरोपी पूजा-पाठ करता था। वह शांत ही रहता था। उसने इस खौफनाक वारदात को कैसे अंजाम दिया होगा ये सोचकर सभी हैरान हैं।
मृतकों की पहचान
बीतन देवी उम्र 75 वर्ष- आरोपी की मां
नीतू देवी उम्र 36 वर्ष- आरोपी की पत्नी
अपर्णा उम्र 13 वर्ष- पुत्री
अन्नपूर्णा उम्र 9 वर्ष पुत्री
स्वर्णा उर्फ गुल्लो उम्र 11 वर्ष पुत्री

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share