कच्चे तेल के दाम में तेजी के बीच पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी

 कच्चे तेल के दाम में तेजी के बीच पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम बढऩे के बावजूद घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार 70वें दिन कोई बदलाव नहीं हुआ है। हालांकि इस अवधि में तेल की अंतराष्ट्रीय कीमतों में 16 डॉलर तक की वृद्धि हो चुकी है। इंडियन ऑयल द्वारा जारी नए रेट के मुताबिक राजधानी नई दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 95.41 रुपये प्रति लीटर और डीजल 86.67 रुपये प्रति लीटर के भाव पर है।  आज भी देश में सबसे सस्ता पेट्रोल-डीजल पोर्ट ब्लेयर में तो सबसे महंगा राजस्थान के श्रीगंगानगर में है। जबकि,  महानगरों में मुंबई में पेट्रोल सबसे महंगा 109.98 रुपये लीटर और दिल्ली में सबसे सस्ता 95.41 रुपये है। वहीं पटना में पेट्रोल कोलकाता (104.67), चेन्नई  (101.40 ) और बेंगलुरु (100.58)  से भी महंगा है।
तेल कंपनियों से मिले आंकड़ों के अनुसार, पेट्रोल और डीजल की कीमतों में पिछला बदलाव चार नवंबर 2021 को हुआ था। उस समय मोदी सरकार ने तेल की सर्वकालिक ऊंची कीमतों से राहत देने के लिए पेट्रोल एवं डीजल पर लागू उत्पाद शुल्क में कटौती की थी। उसके बाद से अब 70 दिन हो गए हैं, जब तेल कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। जून 2017 में पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों में दैनिक आधार पर बदलाव की व्यवस्था लागू की गई थी।
घरेलू स्तर पर पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों का स्थिर बने रहना इस लिहाज से अहम है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतों में बड़ा इजाफा हुआ है। अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड पांच नवंबर 2021 को 82.74 डॉलर प्रति बैरल पर था और बाद में गिरकर एक दिसंबर को 68.87 डॉलर प्रति बैरल पर आ गई थीं।
समय के साथ तेल की अंतरराष्ट्रीय कीमत फिर बढऩे लगी और बुधवार को यह 83.82 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गई। यह 26 अक्टूबर 2021 के 86.40 डॉलर प्रति बैरल के स्तर से बहुत कम नहीं है। उस समय घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल के दाम सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share