गुजरात में हिंदू परिवार के सदस्यों के जबरन धर्म परिवर्तन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

 गुजरात में हिंदू परिवार के सदस्यों के जबरन धर्म परिवर्तन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

एक हिंदू परिवार के तीन सदस्यों के जबरन धर्म परिवर्तन के विरोध में विभिन्न हिंदू संगठनों ने दीसा शहर में पूर्ण बंद का आह्वान किया है। वे मांग कर रहे हैं कि प्रशासन तीनों सदस्यों को वापस लाकर उनके परिवार से मिला दे, अगर प्रशासन ऐसा नहीं करता है तो आने वाले दिनों में हिंदू उग्र विरोध शुरू करेंगे।
हिंदू संगठनों ने बंद का आह्वान किया था, जबकि व्यापारी, एपीएमसी दुकान मालिक, हजारों युवा और नागरिक भी इसके समर्थन में रैली में शामिल हुए। हिंदू नेता कैलाशभाई ने कहा, अल्पसंख्यक समुदाय द्वारा धर्मांतरण बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, हम मांग कर रहे हैं कि जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन हिंदू परिवार के तीन सदस्यों को वापस लाए, अगर वे असफल होते हैं, तो अल्पसंख्यक समुदाय को बहुसंख्यक समुदाय के आक्रोश का सामना करना पड़ेगा।
पिछले हफ्ते, दीसा तालुका के हरेश सोलंकी ने पालनपुर में आत्महत्या का प्रयास किया था, क्योंकि उनके परिवार के तीन सदस्यों – पत्नी, बेटी और बेटे को बेटी का प्रेमी अपने साथ ले गया था। आरोप के अनुसार, बाद में उन्हें इस्लाम में परिवर्तित करने के लिए मजबूर किया गया। आरोपी सोहिल व उसका परिवार उसके परिजनों का ठिकाना नहीं बता रहा था और उल्टा हरेश से ही 25 लाख रुपये की मांग कर रहा था।
पालनपुर पुलिस निरीक्षक जयदेव गोसाई ने बताया कि मामले के संबंध में छह सदस्यों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है, चार अभी भी फरार हैं। पुलिस शिकायतकर्ता हरेश के परिवार के तीन सदस्यों- पत्नी चंद्रिका, बेटे आकाश और बेटी का पता नहीं लगा पा रही है, जिसे सोहिल से कथित तौर पर प्यार हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share