सर्प के काटने से दो की हुई मौत

 सर्प के काटने से दो की हुई मौत

जनपद में सर्पदंश से होने वाली मौत का सिलसिला लगातार जारी है। इसी कड़ी में अलग-अलग घटनाओं में सर्पदंश से महिला समेत दो की मौत हो गई। पुलिस ने पंचनामा के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
खेत खलिहान में बारिश का पानी भर जाने से सांप व अन्य जहरीले कीड़ों ने सुरक्षित स्थानों की ओर रुख कर लिया है। ज्यादातर जहरीले कीड़े खपरैल घासफूस के मकान, लकड़ी के ढेर सहित अन्य सुरक्षित स्थानों पर बैठ जाते हैं, इन्हीं जगहों पर सर्प के डसने की घटना अधिक होती है। ताजी घटना में कमासिन थाना क्षेत्र के रानीपुर गांव निवासी मैकी (48) पत्नी राजकरन मंगलवार को दोपहर कमरे के अंदर घरेलू सामान निकाल रही थी। इसी दौरान खपरैल में छिपे बैठे सांप ने हाथ की उंगली में डस लिया। कुछ ही देर में उसकी हालत बिगड़ गई। परिजन भी अंधविश्वास के चक्कर में फंसकर ओझा को घर बुलाया और झाडफ़ूंक कराई। हालत में सुधार न होने पर परिजनों ने उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। यहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। एक अन्य घटना में गिरवां थाना क्षेत्र के माधवपुर गांव के मजरा गंगापुरवा निवासी भूपेंद्र सिंह (35) पुत्र शिवराम सिंह गांव में प्रशासन द्वारा संचालित की जा रही गौशाला में सोते समय जहरीले कीड़े काटने से उसकी मौत हो गई। बुधवार को सुबह छोटे भाई योगेंद्र ने उसे गौशाला पर मृत अवस्था में पड़ा देखा। मृतक के चचेरे भाई फूल सिंह ने बताया कि भूपेंद्र गौशाला में चैकीदारी करता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share