यूक्रेन पर हमले की पोजिशन में 40 फीसदी रूसी सेना तैनात, किसी भी बहाने हो सकता है आक्रमण!

 यूक्रेन पर हमले की पोजिशन में 40 फीसदी रूसी सेना तैनात, किसी भी बहाने हो सकता है आक्रमण!

यूक्रेन को लेकर रूस का रुख दुनिया के लिए अभी भी अस्पष्ट है। रूस कब, कैसे और कौन सी चाल चलेगा, यह सिर्फ उनके राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन को ही पता है। दरअसल, हाल ही में रूस ने एक वीडियो जारी कर कहा था कि क्रीमिया से वह अपन सैन्य अभ्यास को समाप्त कर रहा है। उसने यूक्रेन सीमा से सैनिकों की वापसी की वीडियो भी जारी की थी, लेकिन अब अमेरिकी रक्षा अधिकारी ने एक खुलासा कर सभी को चौंका दिया है।
यूक्रेन की सीमा पर अभी भी 40 प्रतिशत रूसी सैनिक हमले की स्थिति में तैनात हैं। अमेरिकी रक्षा अधिकारी ने बताया कि पिछले 48 घंटे में यूक्रेन की सीमा पर सामरिक सैन्य जमावड़ा किया गया है।
रूस ने यूक्रेन की सीमा पर 125 बटालियन सामरिक समूहों का जमावड़ा किया है। यह सभी बटालियन हमले की पोजिशन में तैनात हैं। उन्होंने बताया कि सामान्य समय में यह जमावड़ा 60 बटालियन का होता है, लेकिन फरवरी की शुरुआत में यह 80 बटालियन हो गया, वहीं पिछले 48 घंटे में इसे 125 कर दिया गया है।
इस तनातनी के बीच अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन ने कहा है कि, रूस कभी भी यूक्रेन पर हमला कर सकता है। उन्होंने कहा कि हमले के लिए रूस किसी भी क्षेत्र में किसी घटना के जरिए यूक्रेन को उकसा सकता है। उन्होंने कहा कि व्लादिमिर पुतिन के पास कई विकल्प मौजूद हैं और वह बहुत जल्द हमला कर सकते हैं।
डीआईयू ने ट्वीट करके रूस पर निशाना साधा है। डीआईयू ने ट्वीट किया कि यूक्रेन के अस्थायी रूप से कब्जे वाले क्षेत्रों में अपने सैनिकों के माध्यम से रूस बुनियादी सुविधाओं और ढांचों को नुकसान पहुंचाकर स्थिति को अस्थिर करना चाहता है और इस तरह की घटनाओं को वह यूक्रेन पर आतंकवादी जैसी गतिविधियों के आरोप लगाने के लिए आधार बनाना चाहता है। इसके साथ ही यूक्रेन की खुफिया एजेंसी ने अपने नागरिकों को सचेत करते हुए कहा कि अपने घरों से न निकलें और जहां तक हो सकते सार्वजनिक परिवहन का उपयोग करने से बचें। एजेंसी ने आतंकी कृत्य जैसी उकसावे वाली किसी भी घटना के किसी भी समय घटने की आशंका जताई है।
अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने एक बार फिर यूक्रेन संकट को लेकर चिंता जाहिर की है। उन्होंने कहा कि हमारे पास यह मानने का कारण है कि रूसी सेना आने वाले दिनों में यूक्रेन पर हमला करने का इरादा रखती है। हमें विश्वास है कि वे यूक्रेन की राजधानी कीव को निशाना बनाएंगे। बाइडेन ने कहा कि रूस की ओर से दुष्प्रचार में वृद्धि यूक्रेन के खिलाफ युद्ध का बहाना हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share