जनपद में संविधान की शपथ के साथ धूमधाम से मनाया गया 73वां गणतंत्र दिवस

 जनपद में संविधान की शपथ के साथ धूमधाम से मनाया गया 73वां गणतंत्र दिवस

पौड़ी। जनपद गढ़वाल में 73वें गणतंत्र दिवस को मण्डल मुख्यालय, सहित जनपद के समस्त क्षेत्रों में ध्वजारोहण तथा संविधान की शपथ के साथ धूमधाम से मनाया गया। बुधवार को जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदंडे ने 9 बजे कैंप कार्यालय में ध्वजारोहण कर उपस्थित लोगों को शुभकामनाएं दी। इसके अलावा 9.30 बजे आयुक्त कार्यालय में अपर आयुक्त नरेंद्र क्वीराल तथा कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान उन्होंने वहां उपस्थित लोगों को संविधान की शपथ भी दिलाई। वही कंडोलिया खेल मैदान में जिलाधिकारी द्वारा ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली गई। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह एक महत्वपूर्ण दिन है, जब भारत काफी गर्व के साथ संवैधानिक लोकतांत्रिक गणराज्य के रूम में 73वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है। गणतंत्र दिवस कोविड-19 का अनुपालन करते हुए मनाया गया। जिलाधिकारी डॉ0 जोगदंडे ने कहा कि गणतंत्र दिवस 26 तारीख को इसलिए मनाया जाता है, क्योंकि इसी तारीख को भारतीय संविधान लागू हुआ था। इस दौरान उन्होंने देश के महान व्यक्तियों की विस्तृत जानकारी भी दी। उन्होंने देश के स्वतंत्रता सैनानियों को याद करते हुए नमन किया। साथ ही देश की आजादी के लिये अपने प्राणों की आहूती देने वाले वीरों नायको तथा देश की सीमाओं पर शहीद होने वाले जवानों को भी याद किया। उन्होंने कहा कि हमारे संविधान में महात्मा गांधी, ग्राम स्वराज, सामाजिक, आर्थिक सहित अन्य का उल्लेख किया गया है। साथ ही उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से हिन्दुस्तान के लिये आज का दिन गौरवशाली व ऐतिहासिक है, और हमारी यह पीढ़ी सौभाग्यशाली हैं। जिन्होंने आजाद हिन्दुस्तान को बनते हुये देखा है, इसलिए हम अपने आप को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। गणतंत्र दिवस के अवसर पर एसएसपी यशवंत सिंह चौहान ने जिलाधिकारी को स्मृति चिन्ह भेंट भी किया। इसके अलावा एसएसपी कार्यालय में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान, विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी प्रशांत कुमार आर्य ने ध्वजारोहण कर वहा उपस्थित कर्मचारियों को संविधान की शपथ दिलाई। गणतंत्र दिवस के अवसर पर जनपद के विभिन्न तहसील, विकासखंडों तथा समस्त कार्यालयों में भी ध्वजारोहण किया गया। इस अवसर पर कोविड-19 का अनुपालन करते हुए गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने कलेक्ट्रेट में ध्वजारोहण कर वहां उपस्थित लोगों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि हम उन सब स्वतंत्रता सेनानियों और बुद्धिजीवियों के ऋणी हैं, जिन्होंने हमें आजादी दिलाई और जिन बुद्धिजीवियों के द्वारा संविधान का निर्माण किया गया। संविधान में सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक तीनों प्रकार की समानता का जिक्र किया गया है। उन्होंने कहा कि हमें अपने अधिकारों के साथ-साथ अपने कर्तव्यों का भी निर्वहन करना चाहिए और सोचना चाहिए कि जो समाज का गरीब, वंचित वर्ग है वह भी समाज की मुख्यधारा में शामिल हो सके। हमें गांधी, टैगोर, विवेकानंद जैसे नैतिकता प्रदान करने वाले व्यक्तियों तथा सुभाष चंद्र बोस, भगतसिंह, चंद्रशेखर आजाद जैसे क्रांतिकारियों से प्रेरणा लेनी चाहिए जिन्होंने अपने देश के लिए हर तरह से योगदान दिया। जिलाधिकारी डॉ0 जोगदंडे ने कहा कि हमें आगामी विधानसभा निर्वाचन में बढ़-चढ़कर प्रतिभाग करना होगा जिस तरह जनपद पौडी हर एक क्षेत्रों में देश में अग्रणी भूमिका निभाता रहा है और निभा रहा है चाहे वह देश की आजादी मैं योगदान हो, चाहे सीमा पर देश की सुरक्षा में और चाहे राजनीति में सभी जगह पौड़ी जनपद अग्रणी भूमिका में है, लेकिन मतदान प्रतिशत के मामले में संतोषजनक स्थिति में नहीं है। इसलिए उन्होंने अपील की कि जनपद के समस्त वासी मतदान में अधिक से अधिक प्रतिभाग करें। साथ ही उन्होंने कहा कि हमें अपने दायित्वों का इस तरह से निर्वहन करना चाहिए, ताकि आने वाली पीढ़ी हमारे योगदान से प्रेरणा ले सकें। जिलाधिकारी ने इस दौरान संविधान की प्रस्तावना पढ़कर नागरिकों को अपने दायित्वों को सकारात्मक तरीके से निर्वहन करने की शपथ भी दिलाई। इस अवसर पर एसएसपी यशवंत सिंह चौहान, मुख्य विकास अधिकारी प्रशांत कुमार आर्य, अपर जिलाधिकारी इला गिरी एएसपी अनूप काला, उप जिलाधिकारी लैंसडाउन, स्मिता परमार, उपजिलाधिकारी कोटद्वार मुक्ता मिश्रा सीओ सदर प्रेमलाल टम्टा, आरआई विपेंद्र सिंह सहित दीपक नेगी, मनोज रावत, प्रदीप बिष्ट सहित संबंधित उच्च अधीनस्थ कार्मिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share