बेरीनाग का बौराणी मेला रंगारंग कार्यक्रमों के साथ संपन्न

 बेरीनाग का बौराणी मेला रंगारंग कार्यक्रमों के साथ संपन्न

पिथौरागढ़। जिले की आस्था और लोक परंपराओं का केंद्र बेरीनाग का बौराणी मेला रंगारंग कार्यक्रमों के साथ संपन्न हुआ। 27 फीट लंबी चीड़ के छिलकों की मशाल मेले का मुख्य आकर्षण रहीं। मेले में चांचरी, खेलों की धूम रही, जिसका आनंद लेने लोगों की भीड़ जुटी रही। बौराणी मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शुभारंभ मुख्य अतिथि पूर्व दर्जा राज्यमंत्री खजान चंद गुड्डू ने किया। उन्होंने कहा मेले हमारी सांस्कृतिक व धार्मिक धरोहर हैं। इन्हें सहेजने के लिए सभी को जिम्मेदारी निभानी होगी। मेले में रंगारंग कार्यक्रमों की धूम रही। विभिन्न कलाकारों ने कुमाउंनी गीतों की मनमोहक प्रस्तुति दी। इन गीतों की धुन पर दर्शक जमकर थिरके। स्थानीय कलाकारों ने झोड़ा, चांचरी, खेल लगाकर लोगों को लोक संस्कृति व लोक परंपराओं की झलक दिखाई। 27 फीट लंबी चीड़ के छिलकों की मशाल मेले का मुख्य आकर्षण रही। बढ़ी संख्या में लोग मशाल देखने पहुंचे। मान्यता के अनुसार इसे देखने मात्र से मनोकामना पूर्ण होती है। सैम मंदिर की सात बार परिक्रमा के बाद मशाल को मंदिर परिसर में स्थापित किया गया। मशाल स्थापना के समय देवडांगरों ने अवतरित होकर लोगों को सुख-समृद्धि का आशीर्वाद दिया।
ये रहे शामिल:  मेला समिति के अध्यक्ष दिवान सिंह, सचिव जगत सिंह, कोषाध्यक्ष प्रमोद बोरा, हिमांशु आगरी, भगवान सिंह कठायत, पवन टम्टा, गोपाल मेहरा, दीपक उप्रेती, पंकज पिंटू, भगवान सिंह भंडारी, अनुज माही, राजेंद्र प्रसाद, कुंदन सिंह बोहरा, हेमन्त, निक्की, कमल, सूरज।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share