डीएम ने किया ईवीएम एवं वीवीपैट मशीनों का प्रथम रैंडमाईजेशन

 डीएम ने किया ईवीएम एवं वीवीपैट मशीनों का प्रथम रैंडमाईजेशन

रूद्रप्रयाग। विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2022 को निष्पक्ष, शांतिपूर्ण एवं व्यवस्थित ढंग से संपादित कराने के लिए निर्वाचन प्रक्रिया को संपादित करने हेतु उपयोग में लाई जाने वाली ईवीएम एवं वीवीपैट मशीनों का शुक्रवार को एन.आई.सी. कक्ष में राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी मनुज गोयल द्वारा ईवीएम एवं वीवीपैट मशीनों का प्रथम रैंडमाईजेशन किया गया। ईवीएम एवं वीवीपैट मशीनों का प्रथम रैंडमाईजेशन के अवसर पर जिला सूचना विज्ञान अधिकारी कैलाश किमोठी ने रैंडमाईजेशन हेतु सॉफ्टवेयर की प्रक्रिया को जिला निर्वाचन अधिकारी के सम्मुख प्रस्तुत किया तथा नोडल अधिकारी हितेश पाल व सहायक नोडल अधिकारी वी.के. देवरानी ने मशीनों के आवंटन पर जानकारी रखी। जिला निर्वाचन अधिकारी ने मशीनों के रैंडमाईजेशन की पूरी प्रक्रिया से राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को जानकारी दी व रैंडमाईजेशन की अवधारणा को समझाया। उन्होंने मौके पर मौजूद राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों से रैंडमाईजेशन की प्रक्रिया संपादित करने के लिए उनकी सहमति भी जानी। इसके साथ ही विधान सभा सामान्य निर्वाचन में उपयोग में लाई जाने वाली 491 बी.यू. 452 सी.यू. तथा 642 वीवीपैट मशीनों का प्रथम रैंडमाईजेशन संपन्न हुआ। सॉफ्टवेयर के जरिए अपनाई गई इस प्रक्रिया के तहत जिले की दोनों विधान सभाओं हेतु 07-केदारनाथ विधान सभा के 173 मतदान स्थल हेतु 218 बी.यू. एवं सी.यू. तथा 308 वीवीपैट तथा 08-रुद्रप्रयाग के 188 मतदान स्थल हेतु 234 बी.यू. एव सी.य.ू. तथा 334 वीवीपैट मशीनों का आवंटन किया गया। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी दीपेंद्र सिंह नेगी, सूचना विज्ञान अधिकारी कैलाश चंद्र किमोठी, नोडल अधिकारी हितेश पाल, सहायक नोडल अधिकारी बी.के. देवरानी, कांग्रेस के जिला महामंत्री शैलेंद्र गोस्वामी, लक्ष्मण रावत, भाजपा से गौरव चैधरी, सी.पी.एम. के एन.एस. रावत आदि मौजूद रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share