डीएम ने ली विधानसभा निर्वाचन को लेकर की गई तैयारियों एवं व्यवस्थाओं की जानकारी

 डीएम ने ली विधानसभा निर्वाचन को लेकर की गई तैयारियों एवं व्यवस्थाओं की जानकारी

रूद्रप्रयाग। विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2022 को निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से संपादित कराने के लिए भारत निर्वाचन आयोग की ओर से जनपद की दोनों विधान सभाओं के लिए नामित किए गए सामान्य प्रेक्षक डॉ. जे. बालाजी, व्यय प्रेक्षक मृणाल कुमार दास, पुलिस प्रेक्षक डॉ. मनोज कुमार शर्मा ने विकास भवन सभागार में जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी मनुज गोयल, पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल एवं संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर जनपद में विधान सभा निर्वाचन को लेकर की गई तैयारियों एवं व्यवस्थाओं की जानकारी ली। बैठक में सामान्य प्रेक्षक डॉ. जे. बालाजी ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सभी अधिकारी अपने दायित्वों का निर्वहन कुशलता के साथ करते हुए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार ही चुनाव प्रक्रिया को संपादित किया जाए। उन्होंने कहा कि कोविड गाइडलाइन के अनुसार ही मतदान की प्रक्रिया संपादित की जाए तथा मतदान केंद्र में दिव्यांग मतदाता एवं बुजुर्ग मतदाताओं के लिए उचित रैम्प की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए तथा दूरस्थ क्षेत्र की पोलिंग पार्टियों के लिए भी बेहतर प्लानिंग करते आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि पोलिंग बूथ के 100 मीटर के दायरे में किसी भी प्रकार का प्रचार-प्रसार न हो इसके लिए उचित सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि मतदान प्रतिशत बढाने के लिए सभी लोगों को मतदान के लिए प्रेरित किया जाए। उन्होंने सभी कार्मिकों से कहा कि ई.वी.एम. की सुरक्षा का विशेष ध्यान दिया जाए तथा सभी कार्मिकों को ट्रेनिंग के दौरान इसकी जानकारी देते हुए किसी भी पोलिंग पार्टी द्वारा किसी भी व्यक्ति के घर में या पोलिंग बूथ पर किसी भी प्रकार का आतिथ्य स्वीकार न किया जाए इस पर सभी को विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। बैठक में व्यय प्रेक्षक मृणाल कुमार दास ने कहा कि निर्वाचन गतिविधियों में प्रत्याशियों द्वारा किए जा रहे व्यय पर विशेष निगरानी रखने की आवश्यकता है। इसके लिए यह जरूरी है कि इस कार्य में तैनात किए गए टीमों को अपने दायित्वों का निर्वहन बड़ी गंभीरता से करना है तथा प्रचार-प्रसार में जो भी व्यय किया जा रहा है उस पर कड़ी निगरानी रखते हुए संबंधित प्रत्याशी द्वारा किए जा रहे व्यय को उसके खाते में अंकन किया जाए। इस दौरान बैठक में पुलिस प्रेक्षक डॉ. मनोज कुमार शर्मा ने कहा कि निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। इसके लिए सभी टीमें अपने दायित्वों का निर्वहन ठीक प्रकार से करें तथा आदर्श आचार संहिता का किसी भी प्रकार से कोई उल्लंघन न हो यदि किसी व्यक्ति या प्रत्याशी द्वारा आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया जा रहा है तो उसके खिलाफ आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों द्वारा जो भी कार्यक्रम या प्रचार-प्रसार किए जा रहे हैं। उस पर कड़ी निगरानी रखते हुए सभी कार्यक्रमों की वीडियो ग्राफी अनिवार्य रूप से करवाई जाए। बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी मनुज गोयल ने प्रेक्षकों को जनपद की दोनों विधान सभाओं के निर्वाचन को कुशलता के साथ संपादित कराने के लिए की गई तैयारियों एवं व्यवस्थाओं के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि प्रेक्षकों द्वारा जो भी दिशा-निर्देश दिए गए हैं, सभी अधिकारी उनका अनुपालन करते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन कुशलता के करेंगे तथा भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी गाइडलाइन एवं दिशा-निर्देशों को सभी अधिकारी ठीक ढंग से अध्ययन करते हुए अक्षरांश गाइडलाइन के अनुसार निर्वाचन प्रक्रिया को संपादित करें, इस कार्य में किसी भी प्रकार की कोई लापरवाही न बरती जाए। इस मौके पर बैठक में मुख्य विकास अधिकारी/नोडल अधिकारी कार्मिक नरेश कुमार, अपर जिलाधिकारी/उप जिला निर्वाचन अधिकारी दीपेंद्र सिंह नेगी, उप जिला अधिकारी/रिटर्निंग अधिकारी रुद्रप्रयाग अपर्णा ढ़ौंड़ियाल, केदारनाथ जितेंद्र वर्मा, जिला विकास अधिकारी मनविंदर कौर सहित सभी नोडल अधिकारी एवं सहायक नोडल अधिकारी मौजूद रहे।
फोटो 12 संलग्न है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share