कांग्रेस और सपा कार्यकर्ताओं के बीच जमकर मारपीट

 कांग्रेस और सपा कार्यकर्ताओं के बीच जमकर मारपीट

हल्द्वानी। मतदान के दौरान वनभूलपुरा स्थित राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में कांग्रेस और सपा कार्यकर्ताओं के बीच जमकर मारपीट हुई। इससे बूथ के बाहर भगदड़ मच गई। लोगों ने गलियों में भागकर जान बचाई। सूचना पर पहुंची पैरामिलिट्री फोर्स और पुलिस ने भीड़ को नियंत्रण करने के लिए लाठियां भांजी। इसके बाद यहां सुरक्षा कर्मियों की संख्या बढ़ाई गई।  पुलिस के अनुसार सोमवार दोपहर करीब डेढ़ बजे कांग्रेस प्रत्याशी सुमित हृदयेश वनभूलपुरा स्थित पोलिंग बूथ पर पहुंचे थे। वह अपने बूथ एजेंट से माहौल की जानकारी ले रहे थे। तभी सपा प्रत्याशी शोएब अहमद भी वहां पहुंच गए और अपने समर्थकों के साथ बातचीत करने लगे। आरोप है कि इस दौरान दोनों प्रत्याशियों के समर्थकों में टीका-टिप्पणी शुरू हो गई। इस बीच कांग्रेस प्रत्याशी वहां से निकल गए। कुछ ही देर में दोनों प्रत्याशियों के समर्थकों में मारपीट शुरू हो गई। दोनों पक्षों में लात-घूंसे चलने लगे। इस दौरान वोट देने आए लोगों में भगदड़ मच गई। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने भीड़ को नियंत्रित करने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली। हंगामे की सूचना पर पहुंची पैरामिलिट्री फोर्स और अतिरिक्त पुलिस बल ने लाठियां भांजकर भीड़ को तितर-बितर किया। गनीमत यह रही कि किसी को गंभीर चोट नहीं आई। देर शाम तक किसी पक्ष की ओर से पुलिस को शिकायत नहीं दी गई थी।
आधा घंटा चला हंगामा-   जानकारी के अनुसार इस बूथ पर करीब आधे घंटे तक हंगामे का माहौल रहा। इस दौरान वोट देने आए लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। मारपीट के दौरान कई लोगों ने मौके से भागकर जान बचाई। हालांकि विवाद शांत होने के बाद लोग वोट देने लौटे।
पुलिस ने सुबह से संभाला मोर्चा-    सोमवार को पुलिस संवेदनशील बूथों पर सुबह से सक्रिय रही। वनभूलपुरा थाना एसओ नीरज भाकुनी ने क्षेत्र में पैरामिलिट्री फोर्स के साथ बूथों पर फ्लैग मार्च किया। लाउडस्पीकर से अराजक तत्वों को चेतावनी देने के साथ ही लोगों को वोट डालने के लिए जागरूक करते नजर आए। राजपुरा क्षेत्र में भी पुलिस की टीमें समय-समय पर निरीक्षण करती रहीं।
पुलिस ने पूरे मामले की वीडियो रिकॉर्डिंग की है। अराजकता फैलाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने समय पर पहुंचकर मामला शांत करा दिया था। जिले में मतदान शांतिपूर्ण हुआ है।       -पंकज भट्ट, एसएसपी नैनीताल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share