जमीनी विवाद में दो पक्षों के बीच चलीं ताबड़तोड़ गोलियां, 8 घायल

 जमीनी विवाद में दो पक्षों के बीच चलीं ताबड़तोड़ गोलियां, 8 घायल

हल्द्वानी। हल्द्वानी के आरटीओ का जयदेवपुर सोमवार को गोलियों की गूंज से दहल उठा। यहां पर जमीनी विवाद को एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसमें चार बिलासपुर से आए लोग घायल हो गए। आनन-फानन में चारों को बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी हालत में सुधार बताया जा रहा है।
वहीं सूचना पर पहुंची गोली चलाने वालों को हिरासत में ले लिया है। इसके साथ ही पुलिस ने दो अवैध 12 बोर और 315 बोर के तमंचे व एक लाइसेंसी दो नाली बंदूक बरामद भी मौके से बरामद कर ली है। इसमें से 315 बोर का तमंचा लोडेड हालात में मिला। पुलिस के अनुसार सोमवार दोपहर में सूचना मिली कि आरटीओ रोड स्थित ओमकार सिटी जयदेवपुर कॉलोनी में गोलियां चल गई हैं, जिसमें कुछ लोग घायल हुए हैं।
सूचना मिलते ही एसपी सिटी, सीओ समेत मुखानी थाना एसओ और आरटीओ रोड चौकी प्रभारी मौके पर पहुंचे तब तक विवाद चल ही रहा था, गोली चलने से बिलासपुर माटखेड़ा निवासी दर्शन सिंह, हरपाल सिंह पाली, कुलविंदर सिंह और साहिल घायल हुए थे। जिन्हें उपचार के लिए बेस अस्पताल भेज दिया गया। जानकारी के बाद पता चला कि ये लोग जयदेवपुर कॉलोनी आए हुए थे, यहां पर उन्हें विवादित भूमि पर झोपड़ी मिली।
जिसे उन्होंने तोड़ना शुरू कर दिया, इसमें एक मजदूर रहता था। जो घटना के समय काम पर गया हुआ था। इसी बात की भनक दूसरे काबिज को लगी तो दोनों में विवाद उत्पन्न हो गया। विवाद इतना बड़ा की दूसरे पक्ष ने गोलियां चलानी शुरू कर दी। जिसमें चार लोग घायल हो गए।
मौके पर मौजूद घायल हरपाल के पुत्र सिमरनजीत व भतीजे कर्मवीर सिंह ने बताया कि उनके परिजनो को पता चला था कि उनकी भूमि पर किसी ने कब्जा जमाया हुआ है, जिसे खाली कराने आए हुए थे। लेकिन दूसरे पक्ष ने मौके पर उनके पिता, दादा समेत रिश्तेदारों को गोली मार दी। वहीं पुलिस ने दूसरे पक्ष के घर से हथियार बरामद कर लिए हैं। वहीं पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। वहीं दूसरे पक्ष ने भी घायल लोगों पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं।
गोली चलाने वाले एक व्यक्ति को हिरासत में ले लिया गया है। एक और अन्य की तलाश की जा रही है, जल्द ही उसे भी पकड़ लिया जाएगा। भूमि विवाद के चलते यह घटना हुई है।   -हरबंस सिंह, एसपी सिटी हल्द्वानी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share