हत्या करने की फिराक में घूम रहे दो बदमाश पुलिस ने दबोचे

 हत्या करने की फिराक में घूम रहे दो बदमाश पुलिस ने दबोचे

काशीपुर। काशीपुर पुलिस ने हत्या की वारदात को अंजाम देने आए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की सतर्कता के कारण आरोपी अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाए। इन दोनों आरोपियों के गिरफ्त में आने के साथ ही काशीपुर में अगस्त महीने में शराब की दुकान के सेल्समैन के साथ हुई लूट की वारदात का भी खुलासा हो गया है। क्योंकि ये दोनों आरोपी इस लूट की वारदात में शामिल थे।
पुलिस ने बताया कि बीते अगस्त महीने में शराब की दुकान पर बैठने वाले सेल्समैन प्रमोद कुमार पर लाठी-डंडों से अज्ञात बदमाशों ने हमला कर दिया था। आरोपी बैग में रखे 60 हजार रुपए भी लूट कर फरार हो गए थे। इस मामले में संजीव चौधरी निवासी जसपुर खुर्द ने काशीपुर के आईटीआई थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले में डीआईजी कुमाऊं के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार और सहायक पुलिस अधीक्षक अक्षय प्रह्लाद ने कोतवाल के नेतृत्व में एक टीम गठित की थी। जांच टीम लगातार इस मामले की तफ्तीश में जुटी हुई थी। जांच टीम ने इलाके में लगे सभी सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगालना शुरू किया, ताकि बदमाशों की पहचान हो सके। एसओजी प्रभारी रविन्द्र सिंह बिष्ट ने पुष्प विहार कॉलोनी के पास सघन वाहन चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान मोटर साइकिल सवार दो संदिग्ध पुलिस के हत्थे चढ़ गये। पूछताछ में दोनों ने अपने नाम नदीम निवासी मोहल्ला अल्लीखां और फुरकान निवासी मोहल्ला काली बस्ती अल्लीखां बताया।
तलाशी के दौरान आरोपियों के पास से 315 बोर के दो तमंचे और दो जिंदा कारतूस बरामद हुए। पुलिस ने जब आरोपियों से सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि अगस्त महीने में उनके द्वारा ही शराब के ठेकेदार को लाठी-डंडों से मारकर 60 हजार रुपए लूटे गए थे। पुलिस की पूछताछ ने दोनों ने यह भी बताया कि दो दिन पहले रविपाल निवासी मोहल्ला महेशपुरा से उनका झगड़ा हुआ था। रविपाल पूर्व में हत्या कर चुका है। जिस कारण दोनों को भय था कि वह उनके साथ भी इसी तरह की घटना अंजाम दे सकता है। इसलिए वह दोनों उसे रास्ते से हटाने के लिए वहां जा रहे थे। पुलिस ने दोनों के कब्जे से लूटे गये 20,900 रुपये बरामद किए हैं। इसके अलावा बिल की डुप्लीकेट कॉपी भी बरामद हुई. पुलिस ने बताया कि दोनों नशे के आदी हैं। दोनों के खिलाफ पूर्व में एनडीपीएस व आर्म्स एक्ट के मुकदमे भी दर्ज हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share