पूजा राज चैलेंजर कप में सबसे अधिक विकेट लेने वाली गेंदबाज बनीं

 पूजा राज चैलेंजर कप में सबसे अधिक विकेट लेने वाली गेंदबाज बनीं

देहरादून। चैलेंजर कप में अंडर 19 महिला की टीम सी से खेलते हुए उत्तराखंड अंडर 19 टीम की कप्तान पूजाराज ने शानदार प्रदर्शन किया है। पूरी प्रतियोगिता में उन्होंने सर्वाधिक 11 विकेट लिए हैं। वहीं अंडर 19 महिला टीम डी की कप्तानी कर रही उत्तराखंड की नीलम भारद्वाज के नेतृत्व में टीम ने प्रतियोगिता में क्वालिफाई कर लिया है। इस शानदार प्रदर्शन के दम पर पूजा और नीलम के पहली बार आयोजित होने जा रहे आईसीसी के अंडर 19 महिला विश्वकप में चयन की संभावना काफी बढ़ गई है। जयपुर में चल रहे चैलेंजर ट्रॉफी में मैचों में पूजा राज ने दो नवंबर को हुए पहले मैच में टीम सी विरुद्ध टीम डी के बीच हुए मुकाबले में 10 ओवर में एक मेडन रखते हुए 36 रन पर चार विकेट लिए। टीम दो विकेट से हारी मगर पूजा का प्रदर्शन नोटिस किया गया। तीन नवंबर को दूसरा मैच टीम बी विरुद्ध टीम सी के बीच हुआ। पूजा ने इस मैच में 9.2 ओवर में एक मेडन रखते हुए 36 रन पर दो विकेट लिए। हालांकि उनकी टीम अस्सी रन से मैच हारी। पांच नवंबर को तीसरा मैच टीम ए के खिलाफ हुआ। जिसमें पूजा ने आठ ओवर में दो मेडन के साथ कुल 18 रन दिए व पांच विकेट अपने नाम किए। पूजा का बैकग्राउंड काफी संघर्ष भरा रहा है। वह चमोली जिले के गैरसैंण के सुदुर गांव ढांगा की रहने वाली है।
दून में कोच नरेन्द्र शाह उन्हें अपनी अकादमी लिटिल मास्टर क्लब में ले आए। दून में ही उनके रहने व पढ़ाई का प्रबंध किया। मां अनिता व पिता लेखराज गांव में खेतीबाड़ी करते हैं। इससे पहले वह गांव में ही क्रिकेट खेलती थी। दून आने पर उन्हें स्तरीय क्रिकेट खेलने व कोचिंग का मौका मिला। हाल ही में अंडर 19 उत्तराखंड की टीम की कैप्टन के रुप में उन्होंने उत्तराखंड के लिए पहली बीसीसीआई ट्रॉफी जीतकर तो कमाल ही कर दिया। इसी प्रदर्शन के दम पर पूजा, नीलम समेत साक्षी, राघवी, मीनाक्षी, नंदिनी कश्यप को चैलेंजर कप में खेलने का मौका मिला था। नीलम भारद्वाज ने भी शानदार प्रदर्शन करते हुए प्रतियोगिता में तीन विकेट समेत 92 रन बनाए हैं। नीलम की टीम उनके नेतृत्व में क्वालिफाई कर गई है। दोनों खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी ओर खींचा है। पहली बार होने वाले अंडर 19 महिला विश्वकप में यदि दोनों खिलाड़ियों को मौका मिलता है तो यह उत्तराखंड क्रिकेट के लिए एक ओर बड़ा अवसर होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share