दिल्ली में सोमवार से खुलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्कूल

 दिल्ली में सोमवार से खुलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्कूल

दिल्ली में 7 फरवरी से 9वीं से 12वीं क्लास तक के स्कूल और कोचिंग संस्थान के साथ-साथ सभी कॉलेज दोबारा खुल जाएंगे। शुक्रवार को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक में यह निर्णय लिया गया। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यह जानकारी साझा करते हुए कहा कि दिल्ली में कोरोना के मामलों में तेजी से गिरावट देखने को मिली है और साथ ही संक्रमण दर में भी गिरावट आई है। इसे देखते हुए दिल्ली सरकार ने यह अहम फैसला लिया है कि कोरोना के बाद जिन्दगी दोबारा पटरी पर लौटे, इसके लिए यह ज़रूरी है कि कोरोना संबंधी प्रतिबंधों में थोड़ी ढील दी जाए। उन्होंने कहा कि लम्बे समय से स्कूलों के बंद रहने से बच्चों की पढ़ाई को काफी नुकसान हुआ है। इसलिए सोमवार से सभी स्कूलों और कॉलेजों को खोला जाएगा। उन्होंने बताया कि सोमवार से दिल्ली में सभी दफ्तरों को 100 फीसद क्षमता के साथ खोला जा सकेगा। साथ ही संचालकों की मांग पर जिम, स्पा, स्विमिंग पुल को भी खोलने की अनुमति दी जाएगी। रात्रि कर्फ्यू में भी ढील दी दी गई है। अब रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू होगा और रेस्टोरेंट्स भी अब रात 11 बजे तक खोले जा सकेंगे। मनीष सिसोदिया ने बताया कि कोरोना के कारण स्कूलों के बंद रहने से बच्चों की पढ़ाई के साथ-साथ उनके सोशल- इमोशनल वेल-बींग पर भी असर हुआ है। अब जब दिल्ली में कोरोना के मामलों में कमी आई है और 9वीं-12वीं के ज्यादातर बच्चों को वैक्सीन लग चुकी है, इसे देखते हुए यह निर्णय लिया गया है कि सोमवार से 9वीं से 12वीं तक की क्लासों के लिए स्कूलों को खोल दिया जाएगा। साथ ही स्कूलों को 1 सप्ताह का समय दिया जाएगा, ताकि वो नर्सरी से आठवीं तक की कक्षाओं के लिए स्कूल खोलने की तैयारी भी कर सकें।  सभी स्कूलों को भी यह निर्देश दिया जाएगा कि स्कूल के सभी टीचर्स और स्टाफ पूरी तरह से वैक्सीनेटेड हों। डिप्टी सीएम ने बताया कि नर्सरी से आठवीं के स्कूलों को  14 फरवरी से खोल दिया जाएगा7 उन्होंने बताया कि अभी स्कूलों में पढ़ाई ऑनलाइन व ऑफलाइन (ब्लेंडेड मोड में) जारी रहेगी और धीरे-धीरे पढ़ाई पूरी तरह फिजिकल मोड में शुरू कर दी जाएगी।    मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोरोना के कारण कॉलेज भी लम्बे समय से बंद हैं और कॉलेज जाने वाले बच्चों की पूरी कॉलेज लाइफ और कैंपस घर के एक कमरे तक सिमट कर रह गई है। इसलिए यह निर्णय लिया गया है कि सोमवार 7 फरवरी से दिल्ली के सभी कॉलेज खोले जाएंगे और पढ़ाई पूरी तरह ऑनलाइन से ऑफलाइन मोड में शिफ्ट कर दी जाएगी।दिल्ली में कोरोना के प्रतिबंधों के कारण प्राइवेट दफ्तरों को केवल 50 फीसद की क्षमता के साथ संचालित करने की अनुमति थी, लेकिन कोरोना के मामलों में आई कमी को देखते हुए और जिन्दगी को दोबारा पटरी पर लाने के लिए सोमवार से दिल्ली में सभी दफ्तर पूरी क्षमता के साथ संचालित होंगे। साथ ही नाईट कर्फ्यू का समय जो पहले रात 10 बजे से सुबह 5 बजे था, उसे कम कर रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक कर दिया है। अभी तक रेस्टोरेंट्स को रात 10 बजे तक ही खोलने की अनुमति थी, लेकिन अब सभी रेस्टोरेंट्स 11 बजे रात तक खोले जा सकते हैं।मनीष सिसोदिया ने बताया कि कोरोना की वजह से लम्बे समय तक जिम, स्पा और स्विमिंग पुल के बंद रहने से इनके संचालकों को काफी नुकसान हुआ है। साथ ही स्पोर्ट्स पर्सन्स को भी अपने खेलों की तैयारियां करने में मुश्किलें आ रही थी, जिसे देखते हुए यह निर्णय लिया गया है कि सोमवार से सभी जिम, स्पा और स्विमिंग पुल खोले जा सकेंगे और उसके साथ-साथ बिजऩेस 2 बिजऩेस एग्जीबिशन के आयोजनों को भी मंजूरी दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share