रुद्रपुर में खुला प्रदेश का पहला साइबर न्यायालय

 रुद्रपुर में खुला प्रदेश का पहला साइबर न्यायालय

रुद्रपुर।  उच्च न्यायालय के आदेश पर जिला सत्र एवं न्यायालय परिसर में प्रदेश का पहला साइबर न्यायालय शुरू हो गया है। जिला जज प्रेम सिंह खिमाल, अपर जिला न्यायाधीश एवं विशेष न्यायाधीश पॉक्सो रीना नेगी और जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष दिवाकर पांडेय सहित न्यायिक मजिस्ट्रेटों की मौजूदगी में विधि-विधान के साथ इसका शुभारंभ किया गया। इस दौरान मंत्रोच्चारण और हवन यज्ञ के साथ ही साइबर न्यायालय की शुरुआत की गई। जिला जज ने कहा कि साइबर न्यायालय की स्थापना होने से वादकारियों को जल्द न्याय मिलेगा। शनिवार को शुभारंभ के दौरान बार एसोसिएशन के अध्यक्ष दिवाकर पांडेय ने बताया कि कोविड-19 को देखते हुए साइबर न्यायालय का शुभारंभ बेहद सूक्ष्म तरीके से किया है। काफी समय से एसोसिएशन द्वारा उच्च न्यायालय के समक्ष साइबर न्यायालय की स्थापना का मुद्दा उठाया जा रहा था। इसको पूरा करते हुए उत्तराखंड में पहला साइबर न्यायालय शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि न्यायाधीश की नियुक्ति पूर्व में हो चुकी थी, लेकिन भवन नहीं होने के कारण साइबर न्यायालय खुलने में देरी हो गई थी। इसके बाद जजी परिसर में ही साइबर न्यायालय बना दिया गया है। पिछले कुछ समय से जिले में साइबर क्राइम के मामलों का ग्राफ बढ़ा है। ऐसे में न्यायालय नहीं होने से साइबर क्राइम के मामलों का निस्तारण जल्द नहीं हो पाता था, लेकिन अब साइबर न्यायालय प्रारंभ होने के बाद वादकारियों को जल्द न्याय मिलेगा और अपराधों में भी कमी आएगी। इस मौके पर न्यायिक मजिस्ट्रेट रोहित जोशी, सिविल जज जूनियर डिविजन कंचन चौधरी, एसोसिएशन के सचिव शिव कुंवर सिंह, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी रघुवर दत्त जोशी आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share