तीर्थपुरोहित बोले पीएम तक पहुंचाएंगे अपनी बात, आंदोलन रखेंगे जारी

 तीर्थपुरोहित बोले पीएम तक पहुंचाएंगे अपनी बात, आंदोलन रखेंगे जारी

रुद्रप्रयाग। देवस्थानम बोर्ड के विरोध में तीर्थपुरोहितों ने आंदोलन तेज कर दिया है। उन्होंने कहा कि वे 5 नवंबर को केदारनाथ पहुंच रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक अपनी बात पहुंचाएंगे। साथ ही आंदोलन को जारी रखेंगे। कहा कि जिस तरह की परिस्थितियां होंगी, भौतिक रूप से भी प्रदर्शन व विरोध की रूपरेखा तैयार की जाएगी। जबकि बुधवार को केदारनाथ पहुंच रहे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का भी विरोध किया जाएगा।
बीते सोमवार को पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत को देवस्थानम बोर्ड को लेकर केदारनाथ में तीर्थपुरोहितों के भारी विरोध का सामान करना पड़ा था। बुधवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी, पीएम मोदी के केदारनाथ भ्रमण की तैयारियों का जायजा लेने पहुंच रहे हैं। ऐसे में उन्हें भी तीर्थपुरोहितों के विरोध का सामना करना पड़ सकता है। तीर्थपुरोहितों का कहना है कि वे सीएम से लेकर पीएम तक अपनी बात रखना चाहते हैं। कहा कि प्रदेश भाजपा सरकार ने बिना किसी तीर्थपुरोहित व हक-हकूकधारी की सलाह व सुझाव के देवस्थानम बोर्ड गठित किया है, जो उन्हें किसी भी स्थिति में मंजूर नहीं है। 5 नवंबर को जब केदारनाथ पहुंच रहे पीएम मोदी के सम्मुख अपनी बात रखना चाहते हैं। केदार सभा के अध्यक्ष विनोद शुक्ला व महामंत्री कुबेरनाथ पोस्ती का कहना है कि देवस्थानम बोर्ड को लेकर केदारनाथ से केदारघाटी व चारधाम में विरोध जारी रहेगा। जैसे भी परिस्थतियां बनेंगी, आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जाएगी। वहीं, तीर्थपुरोहित संतोष त्रिवेदी ने बताया कि पीएम मोदी तक अपनी बात पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा। देवस्थानम बोर्ड भंग होने तक आंदोलन जारी रहेगा। साथ ही भाजपा नेताओं का केदारनाथ व केदारघाटी में विरोध किया जाएगा। जरूरी हुआ तो वे उग्र कदम उठाने से भी पीछे नहीं रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share