वैक्सीनेशन अभियान का देश में 1 वर्ष पूरा होना केंद्र सरकार की बड़ी उपलब्धि: बीजेपी

 वैक्सीनेशन अभियान का देश में 1 वर्ष पूरा होना केंद्र सरकार की बड़ी उपलब्धि: बीजेपी

देहरादून। देश में कोविड वैक्सीनेशन अभियान को शुरू हुए एक साल पूरा हो गया है। जिसको लेकर भाजपा इसे केंद्र सरकार की बड़ी उपलब्धि बता रही है। बीजेपी ने जहां वैक्सीनेशन का आंकड़ा साझा कर सरकार की उपलब्धियों को गिनाया।  वहीं, कांग्रेस को भी निशाने पर लिया। उत्तराखंड भाजपा के मीडिया प्रभारी सुरेश जोशी ने वैक्सीनेशन अभियान के देश में 1 वर्ष पूरा होने को केंद्र सरकार की बड़ी उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि 140 करोड़ की आबादी वाले देश मे यह विश्व का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन कार्यक्रम है। देश में वैक्सीनेशन अभियान को एक साल पूरे होने पर भाजपा ने आंकड़ा पेश किया।
सुरेश जोशी ने कहा कि अब तक 157 करोड़ से अधिक वैक्सीन डोज लगाए जा चुके हैं। उत्तराखंड में शत प्रतिशत लोगों को पहली डोज और 90 फीसदी को दूसरी कोविड वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। वहीं, इस दौरान उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कल तक वैक्सीन को लेकर भ्रम फैलाने वाले और भारतीय वैज्ञानिकों का अपमान करने वाले विपक्षी नेता अब इस अभियान की सफलता से घबराकर अब बात करने से भी डरते हैं.कोविड वैक्सीनेशन अभियान की सफलता पर सुरेश जोशी ने आंकड़ा पेश किया। उन्होंने कहा देश में अब तक लगभग 68 करोड़ लोग पूरी तरह वैक्सीनेटेड हो चुके हैं और लगभग 91 करोड़ को पहली डोज लगाई जा चुकी है। विगत वर्ष 16 जनवरी 2021 से शुरू हुए इस महाअभियान में प्रत्येक दिन औसतन 43 लाख टीके लगाए जा रहे हैं। वहीं अब फ्रंटलाइन वर्कर्स, स्वास्थ्यकर्मियों और 60 से ऊपर के बुजुर्गों को बूस्टर डोज लगाई जा रही है.ये भी पढ़ें: उत्तराखंड में ओमीक्रोन के 85 मरीज मिलने से मचा हड़कंप, एहतियात बरतने के निर्देशजबकि 15 से 17 साल के बच्चों के लिए भी शुरू किए वैक्सीनेशन में अब तक लगभग 3.31 करोड़ डोज लगाई जा चुकी हैं। इसके अलावा उन्होंने कुछ महत्वपूर्ण तथ्य भी सामने रखे। उन्होंने राज्य में वैक्सीनेशन को लेकर जानकारी दी कि अब तक लगभग कुल 1 करोड़ 51 लाख 27 हजार 124 टीके लगाये जा चुके हैं, जिसमें 79 लाख 80 हजार 785 लोगों को पहली और 67 लाख 14 हजार 335 लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। वहीं, 15 से 18 वर्ष के बच्चों को 3 लाख 49 हजार 666 डोज और 82 हजार 338 प्रिकॉशन डोज राज्य में अब तक लगाई गयी है। सुरेश जोशी ने कहा कि वैक्सीनेशन अभियान को लेकर कांग्रेस और विपक्ष की नकारात्मक भूमिका रही। कांग्रेस वैक्सीनेशन की रफ्तार पर सवाल खड़े करती है, उन्हीं की सरकारों में जापानी इंसेफेलाइटिस वैक्सीन आने में 83 वर्ष लग गए थे। पोलियो का टीका भारत आने में आने 23 साल व टिटनेस का टीका आने में 54 साल लगे थे। वहीं, कोविड वैक्सीन दिसंबर में सबसे पहले ब्रिटेन में और 3 जनवरी को भारत आ गयी थी.कांग्रेस के नेताओं ने वैक्सीन की गुणवत्ता पर भ्रम फैलाने की कोशिश की। भाजपा की वैक्सीन तक बताया। वैक्सीनेशन की सफलता को देखते हुए राजनीति के तहत पहले राहुल गांधी और अन्य नेताओं ने वैक्सीनेशन का अधिकार प्रदेश सरकारों को देने को कहा, फिर इसके संचालन में बुरी तरह असफल होने पर अपना पल्ला झाड़ने लगे.कांग्रेस शासित पंजाब की सरकार पर तो केंद्र द्वारा 400 रुपए में निजी अस्पतालों के लिए उपलब्ध कराई गयी वैक्सीन को 1060 रुपए में बेचकर मुनाफा कमाने के आरोप लगे। उन्होंने कहा आज पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत में कोविड वैक्सीनेश अभियान सफलतापूर्वक चलाया गया। यही वजह है कि कल तक इस पर उंगलियां उठाने वाली विपक्षी पार्टियां इस मुद्दे पर बात करने से बच रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share