क्षेत्रवासियों ने रोड नही तो बोट नही को लेकर जिला अधिकारी को भेजा ज्ञापन

 क्षेत्रवासियों ने रोड नही तो बोट नही को लेकर जिला अधिकारी को भेजा ज्ञापन

नैनीताल। सरोवर नगरी नैनीताल में स्नोभूय वार्ड सभासद पुष्कर बोरा ने एक पत्र जिला निर्वाचन व जिला अधिकारी नैनीताल को पत्र भेजकर माँग की है। रोड नही तो बोट नहीं। यहाँ बता दे कि सामाजिक कार्यकर्ता खुशाल सिंह रावत व स्नोभूय वार्ड सभासद पुष्कर बोरा के नेतृत्व में क्षेत्रवासियों ने अक्टूबर माह में हुई जल प्रलय आपदा के कारण आल्मा काटेज बिड़ला मार्ग पूरी तरह धराशायी हो गया। जिसके चलते क्षेत्रवासियों ने अपने क्षेत्र से आंदोलन का बिगुल फुक दिया है। दर्जनों क्षेत्रवासियों ने रोड नही तो बोट नही, क्षेत्र वासियों ने ठाना है बोट देने नही जाना है। यहां क्षेत्र वासियों का कहना है कि इस मार्ग को बनाने के लिए अभी अपने घर से इस लड़ाई को सड़कों पर उतारा है। अगर शासन प्रशासन द्वारा सड़क निर्माण कार्य शीघ्र नही किया गया तो आमरण अनशन से लेकर किसी भी आंदोलन करने के लिए तैयार रहेगें। अभी तक मार्ग का निर्माण नही हुआ है। इस खबर को प्रमुखता से दो जनवरी को मीडिया के माध्यम से दर्शकों व पाठकों को भी अवगत कराया था। खुशाल सिंह रावत ने कहा कि यहाँ कोई भी राजनीतिक दलों के जनप्रतिधियों ने इस मार्ग का निरीक्षण तक नही किया। उन्होंने कहा कि अभी इस मार्ग से दो पहिया वाहन जा रहें। उनको भी अब इस मार्ग से जाने के लिए सोचना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि अगर भविष्य में यह मार्ग निर्माण जल्दी नहीं बना तो आवसीय परिवारो पर खतरा मंडरा सकता है। कभी भी कोई बहुत बड़ी जनहानि का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। इसय दौरान धरना प्रदर्शन करने वालों में बीरेंद्र बिष्ट, रमेश चन्द्र, चन्द्र प्रकाश, हरीश बिष्ट, पंकज, मदन बोरा, निर्मल तिवारी, चन्दन बोरा, गोपाल बोरा, गिरीश बिष्ट समेत दर्जनों क्षेत्रवासी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share