बीमार युवक को 5 घंटे में डोली से पहुंचाया सड़क तक फिर

  बीमार युवक को 5 घंटे में डोली से पहुंचाया सड़क तक फिर

मुनस्यारी। पिथौरागढ़ के मुनस्यारी के आपदा प्रभावित गांव समकोट के घायल युवक व ग्रामीणों को बदहाल व्यवस्थाओं का खामियाजा भुगतना पड़ा। ग्रामीणों ने किसी तरह 5 घंटे बाद बदहाल रास्तों के बीच घायल को डोली से 17 किमी मुख्य सड़क तक पहुंचाया, तब जाकर उसे उपचार नसीब हो सका। आपदा प्रभावित गांव समकोट को जोडऩे के लिए कई सालों से सड़क नहीं बन सकी है। पिछले दिनों आई आपदा में गांव को जोडऩे वाला एकमात्र पैदल रास्ता भी ध्वस्त हो गया।
यहां के युवक चंचल सिंह के पैर में छह माह पहले चोट आ गई थी। संक्रमण बढऩे से बीते शुक्रवार उनका स्वास्थ्य खराब हो गया। लेकिन सड़क व पैदल रास्ता न होने से उन्हें अस्पताल पहुंचाना चुनौती बन गया।  पूर्व प्रधान धर्म सिंह, गणेश बसेड़ा, सुंदर सिंह, खुशमन सिंह सहित अन्य ग्रामीणों ने उन्हें डोली के सहारे 5 घंटे कठिन सफर कर 17 किमी दूर मुख्य सड़क तक पहुंचाया।
हल्की चूक होती तो हो सकता था हादसा
पूर्व प्रधान धर्म सिंह ने कहा घायल को बदहाल रास्तों के बीच सड़क तक पहुंचाना खतरनाक था। यहां रास्ता भी नहीं है। किसी तरह चट्टानों व मलबे के बीच डोली के सहारे सड़क तक पहुंचाना पड़ा। कहा हल्की चूक भी अन्य ग्रामीणों पर भारी पड़ सकती थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share