गुलदार को ट्रेंकुलाइज करने के लिए वाइल्डलाइफ विशेषज्ञ पहुंचे पौड़ी

 गुलदार को ट्रेंकुलाइज करने के लिए वाइल्डलाइफ विशेषज्ञ पहुंचे पौड़ी

पौड़ी। जिला अस्पताल की आवासीय कॉलोनी में अपने दो शावकों के साथ घूम रही मादा गुलदार को ट्रेंकुलाइज करने के लिए हरिद्वार डिवीजन व राजाजी नेशनल पार्क से वाइल्ड लाइफ विशेषज्ञ पहुंचे है। विशेषज्ञों का कहना है कि मादा गुलदार के साथ उसके शावक भी है इसलिए गुलदार व उसके शावकों को ट्रेंकुलाइज करने के लिए एक्सन प्लान बनाकर कार्रवाई की जा रही है। कहा कि शहर में जगह-जगह उगी झाडि़यां गुलदार का आशियाना बन रही है।
पौड़ी जिला अस्पताल की आवासीय कॉलोनी में बीती 16 फरवरी से एक मादा गुलदार अपने दो शावकों के साथ दिखाई दे रही है। जिस पर वन विभाग ने जिला अस्पताल की आवासीय कॉलोनी में पिंजरा लगाने के साथ ही ट्रेप कैमरे भी लगाए लेकिन अभी तक गुलदार पिंजरे में कैद नहीं हो पाया है। जिस पर वन विभाग ने गुलदार को ट्रेंकुलाइज करने के लिए राजाजी नेशनल पार्क से वाइल्डलाइफ पशुचिकित्सक राकेश नौटियाल व हरिद्वार डिवीजन से डा.अमित ध्यानी को बुलाया है। ये वाइल्डलाइफ पशुचिकित्सक गुलदार व उसके शावकों को ट्रेंकुलाइज करने के लिए काम कर रहे है। वाइल्डलाइफ पशुचिकित्सक राकेश नौटियाल व डा.अमित ध्यानी ने बताया कि गुलदार को ट्रेंकुलाइज करने के लिए एक्सन प्लान बनाकर काम किया जा रहा है। बताया कि शहर में उगी झाडि़या व जगह-जगह फैला कूड़े से गुलदार को भोजन मिल जाता है। जिससे गुलदार झाड़ियों में रहने लगता है। उन्होंने शहरवासियों से अपने आसपास झाडि़यों को साफ करने व अंधेरा होने पर टॉर्ज व अकेले न जाने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share